डोईवाला में बुजुर्ग महिला की हत्या का खुलासा, आरोपी बोला- गलत काम करने को कहती थी इसलिए..

डोईवाला : डोईवाला, ऋषिकेश औऱ एसओजी की संयुक्त टीम ने बीते दिन डोईवाला में हुई बुजुर्ग महिला रिटायर्ड प्रोफेसर की हत्या का 24 घंटे के अंदर खुलासा किया और एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। मामला प्रेम प्रसंग और अवैध संबंध का है। आरोपी का मुल रुप से बंगाल और हाल निवासी डोईवाला में अकेली रह रही बुजुर्ग महिला के घर आना जाना था और दोनों का प्रेम प्रसंग चल रहा था। आरोपी ने खुलासा किया कि उसका अवैध संबंध था लेकिन मृतका उस पर गलत काम करने का दबाव बना रही थी जिससे वो परेशान हो गया था और इस कारण उसने उसकी हत्या की। पुलिस ने पूछताछ के बाद हत्या में प्रयोग किया गया डंडा भी बरामद कर लिया है। साथ ही काफी मात्रा में सोना भी जब्त किया है।

9 सितंबर को हुई थी सुनार गांव में रिटायर्ड प्रोफेसर बुजुर्ग महिला की हत्या

आपको बता दें कि 9 सितंबर को थाना डोईवाला को सूचना मिली की जौलीग्रान्ट क्षेत्रान्तर्गत सुनार गांव में एक घर में एक बुजुर्ग महिला का शव पड़ा मिला। इसकी सूचना पर डोईवाला प्रभारी निरीक्षक समेत पुलिस मौके पर पहुंची।तो एक बुजुर्ग महिला के हाथ, पैर और मुहँ कपड़े से बंधा हुआ था और सर व चेहरे पर चोट के निशान थे। मौके पर एफएसएल से फोरेन्सिक टीम को बुलाया गया औऱ घटनास्थल का जायजा लिया गया। एसओजी की मदद ली गई। आसपास के लोगों से पूछताछ की गई। फोरेन्सिक टीम ने मृतिका के शव की जांच कर बताया कि मृतिका के सर-चेहरे पर चोट मारकर उसकी हत्या की गयी है। मृतक महिला की पहचान पुतुल घोष पुत्री स्व. अमल कुमार घोस निवासी शहीद द्वार, सुनार गांव अठूरवाला, थाना डोईवाला, उम्र 67 वर्ष (मूल निवासी- 24 कान्वेंट रोड,  कोलकत्ता) के रुप में हुई।

अविवाहित थी बुजुर्ग महिला

मृतक महिला के बारे में जानकारी मिली कि मृतिका अविवाहित थी औऱ अपने मामा के साथ उक्त मकान में रहती थी, 7- 8 माह पूर्व मृतिका के मामा की मृत्यु हो गयी थी,  तब से मृतिका अकेली ही उक्त मकान में निवास कर रही थी।

डोईवाला, एसओजी ने संभाली कमान

पूछताछ में मृतिका के पड़ोस में रहने वाले व्यक्ति ने बताया कि मृतिका के बरामदे में रखा अपना समान लेने उनके घर पर गया था तो देखा घर के मुख्य चैनल पर अन्दर से ताले लगे हुए थे। आवाज देने पर जब अन्दर से कोई जवाब नहीं मिला तो वह घर के पिछले हिस्से की ओर गया तो देखा कि खिड़की टूटी हुई है और अन्दर झांकने पर बुजुर्ग महिला का शव पड़ा था. इसकी सूचना पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने आसपास के लोगों से पूछताछ की। देहरादून एसएसपी ने हत्या के खुलासे के लिए टीमें गठित की। डोईवाला, ऋषिकेश और एसओजी ने कमान संभाली। इस मामले में वादी मुकदमा चौकी प्रभारी जौलीग्रान्ट SI शान्ति प्रसाद चमोली ने थाना डोईवाला में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। इस मामले की जांच एसएसआई महावीर सिंह रावत को सौंपी गई।

वहीं तलाशी के बाद आरोपी तनुज असवाल पुत्र मेहरबान सिंह निवासी सुनार गांव अठूरवाला जौलीग्रान्ट, थाना डोईवाला (45 साल) को आज शहीद द्वार की तरफ पहले चौक जौलीग्रान्ट क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया। आरोपी ने अपना जुर्म कबूल किया कि पुतुल घोष की हत्या उसने की है।

आरोपी का कबूलनामा, मृतका ने आरोपी को दिया था 12 तोल सोना गिफ्ट

दौराने पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि उसका मृतिका के घर पर आना जाना था और मृतका उसे गलत कार्य करने के लिए प्रेरित करती थी, जिस कारण वो प्रेम प्रसंग, लोक लाज और शर्म के कारण इस घटना को अंजाम दिया। आरोपी को मा. न्यायालय पेश किया जा रहा है। पुलिस को मृतिका पुतुल घोष के घर से करीब 11-12 तोला के लगभग सोना बरामद हुआ। आरोपी तनुज असवाल की तलाशी लेने पर पुलिस को आरोपी के पास मृतका पुतुल घोष द्वारा गिफ्ट में दिए गए करीब 12 तोला सोना बरामद हुआ। जिससे पुलिस ने साफ किया कि ये लूट के इरादे से की गई हत्या नहीं है।

निरीक्षण के दौरान घटनास्थल से बरामदगी का विवरण

एक पीली धातु की गले की चेन, 02 जोडी पीली धातु के सोने के कडे, 01 पीली धातु का सिक्का, 03 हाथ की पीली धातु की अंगूठियां, 01 जोडी पीली धातु के झुमके, पीली धातु के नगजडे  झुमके, सफेद धातु के 04 सिक्के, सफेद धातु की 03 अंगूठियां, एक जैन्ट्स व तीन लेडीज घडियां, 3701/- रूपये नकद ।

आरोपी के पास से माल बरामद

1 चेन गले की पीली धातु, 1 जैन्टस अंगूठी पीली धातु, 1 घडी, कुर्ते में लगे 03 बटन का सैट पीली धातु, काले रंग का कमर पर बंधा पर्स जिसके अन्दर 4835/- रूपये।

पुलिस टीम

SHO सूर्यभूषण नेगी, निरीक्षक SOG ऐश्वर्या पाल, SSI महावीर सिंह रावत, SI शान्ति प्रसाद चमोली, SI कुलवन्त सिंह, LSI ज्योति, का0 कपिल यादव, का. देवेन्द्र नेगी, का. शशिकांत, का0 विकास कुमार, का0 भारत सिंह, का0 SOG प्रमोद कुमार, का. एसओजी ललित कुमार, का0 SOG देवेन्द्र कुमार, का0 रविन्द्र टम्टा, का0 चन्द्रमोहन सिंह,म0का0 दीक्षा सैनी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here