नैनीताल में खुलासा : ऋषभ नहीं इमरान के साथ होटल में ठहरी थी दीक्षा, पति से हो चुका है तलाक, 11 साल की है बेटी

नैनीताल : नैनीताल में बीते दिन सोमवार को 30 वर्षीय दीक्षा मिश्रा का होटल के कमरे में शव मिलने से सनसनी फैल गई थी जो युवक उसके साथ कमरे में ठहरा था वो कार लेकर फरार हो गया है। पुलिस उसकी तलाश में जुटी है. लेकिन इस बीच बड़ा खुलसा हुआ है कि दीक्षा ऋषभ नहीं बल्कि इमरान के साथ नैनीताल धूमने आई थी। इमरान औऱ दीक्षा के साथ दो अन्य दोस्त भी आए थे जो डिनर के बाद अपने कमरे में चले गए। दोनों ने ही अगले दिन सुबह पुलिस को इसकी सूचना दी थी दीक्षा कमरे में मृत पड़ी है। वहीं पुलिस जांच में बड़ा खुलासा हुआ है।

महिला के सीने में इमरान के नाम का टैटू था

बता दें कि दोस्तों की सूचना पर पुलिस कमरे पर पहुंचे और कमरे का निरीक्षण किया तो पुलिस ने देखा कि मृतक महिला के सीने में ऋषभ नहींं इमरान के नाम का टैटू था। ये देख पुलिस हैरान रह गई कि महिला तो ऋषभ नाम के युवक के साथ जन्मदिन मनाने आई थी तो फिर ये इमरान कौन है? और जो उनके साथी उनके साथ आए थे और पार्टी की थी उनका श्वेता और अलमास उल हक बताया जा रहा है। दोनों ने ही पुलिस को मृतक की सूचना दी थी औऱ उन्होंने पुलिस को बताया था कि ऋषभ फरार हो गया है।

बर्थडे मनाने प्रेमी के साथ नैनीताल आई थी दीक्षा

पुलिस ने दीक्षा के परिजनों को इसकी सूचना दी है। मृतका दीक्षा के भाई ने बताया कि वह ऋषभ के साथ नहीं बल्कि इमरान के साथ नैनीताल जाने की बात कह कर गई थी। वो अपनी बेटी को उनके पास छोड़ गई थी। जिसे अब तक ऋषभ समझा जा रहा था वो नाम बदल कर रह रहा था जो दीक्षा के साथ अरसे से लिव इन में रह रहा था और छानबीन करने पर पता चला कि इमरान कबाड़ का काम करता था। दीक्षा का अपने पूर्व पति से तलाक हो चुका था और उसकी एक 11 साल की बेटी है जिसके साथ वो नोएडा फ्लैट में रहती है। औऱ इमरान भी उनके साथ रहता है। इसी के साथ दीक्षा के साथियों ने बताया कि दो महीने पहले ही उनकी जान पहचान हुई थी। उसी फ्लैट में वो भी रहते हैं और इसी दौरान उनकी मुलाकात हुई। उन्होंने सोचा की दोस्तों के साथ नैनीताल घूम आए।

घर पहुंचा था इमरान, वहां से सामान लेकर फरार

जानकारी मिली है कि पुलिस ने दीक्षा के भाई को फोन कर उनकी बहन और इमरान के बारे में जानकारी दी थी जिसके बाद मृतका का भाई इमरान के घर गया तो देखा कि वो हड़बड़ी में था और  अपने दस्तावेज व कुछ अन्य सामान लेकर फरार हो गया।

नोएडा में एक रियल स्टेट कंपनी में काम करती थी दीक्षा

जानकारी मिली है कि दीक्षा नोएडा में एक रियल स्टेट कंपनी में काम करती थी। जानकारी मिली है कि दीक्षा के पास अपनी गाड़ी है लेकिन वो उसके दोस्त ने कुछ दिन के लिए मांग ली थी जिसके बाद दीक्षा दोस्त की गाड़ी लेकर आई थी और उसी गाड़ी को लेकर इमरान फरार हो गया है।पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी है। सवाल ये उठ रहा है कि क्या दीक्षा जानती थी वो इमरान है? या सिर्फ समाज के डर से इमरान ऋषभ बनकर रह रहा था या दीक्षा ने उसे इमरान से ऋषभ बनने को कहा क्योंकि दीक्षा का टैटू साफ बता रहा है कि उसे मालूम था कि वो इमरान है और वो ऋषभ बनकर रह रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here