ससुरालियों की गिरफ्तारी को लेकर परिजनों ने दी सामूहिक आत्मदाह की धमकी


टनकपुर। चंपावत जिले के टनकपुर स्थित शारदाघाट की रहने वाली मीना सागर ने अपनी बेटी सुषमा की मौत का कारण बने ससुरालियों की गिरफ़्तारी की मांग को लेकर परिजनों और समर्थको के साथ मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन तहसीलदार पिंकी आर्य और एसडीएम हिमांशु कफल्टिया को सौंपा। ज्ञापन में उन्होंने अपनी बेटी की मौत का कारण बने ससुरालियों की गिरफ़्तारी न होने पर 30 अक्टूबर से सीएम कार्यालय के समक्ष आंदोलन किये जाने की धमकी दी है। उन्होंने कहा अगर आंदोलन शुरू होने के एक सप्ताह के भीतर बेटी के ससुराल पक्ष की गिरफ़्तारी नहीं की जाती है तो 07 नवम्बर को परिजनों सहित सामूहिक आत्मदाह कर लेगा।

सुषमा की माँ मीना सागर ने कहा बेटी की मौत का कारण बने ससुराल पक्ष के लोगो की गिरफ़्तारी को लेकर लम्बे समय से प्रशासनिक अधिकारियो से गुहार लगाने के बाद भी कोई कार्यवाही न होने पर विगत दो अक्टूबर से सीएम कैम्प कार्यालय के समक्ष आंदोलनरत हैं। 13 अक्टूबर को पुलिस कप्तान द्वारा दस दिनों के भीतर कार्यवाही किये जाने का आश्वासन देने के बाद आंदोलन स्थगित किया गया, लेकिन 15 दिनों के बाद भी गिरफ़्तारी न होने पर मृतक बेटी को न्याय दिलाने के लिए मजबूरन हमें आत्मघाती कदम उठाने पर मजबूर होना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि 30 अक्टूबर से आंदोलन और फिर भी कार्यवाही न होने पर सात अक्टूबर को परिजनों के साथ सामूहिक आत्मदाह कर लेगा। जिसकी पूरी जिम्मेदारी पुलिस प्रशासन की होगी।

वहीं दूसरी ओर पुलिस कप्तान देवेंद्र पिंचा ने कहा कि यह मामला परिजनों की मांग के अनुरूप निष्पक्ष जांच के लिए नजदीकी जनपद उधमसिंनगर को स्थांतरित किया गया है। उन्होंने कहा अगर इस मामले में उन्हें कोई परेशानी आ रही है तो परिजन उधमसिंहनगर के पुलिस कप्तान या जांच अधिकारी से संपर्क कर सकते है, इसके आलावा अपनी समस्या हमारे सम्मुख भी रख सकते है स उन्होंने कहा अनावश्यक दवाब बनाना उचित नहीं है, उन्होंने पीड़ित परिवार से कानून पर भरोसा रखते हुए शांति व्यवस्था बनाये रखने की अपील की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here