VIDEO : “कंधों पर स्वास्थ्य विभाग की हकीकत”, 12 किलोमीटर पैदल चल बीमार को पहुंचाया अस्पताल

पौड़ी: ये जो आप तस्वीर और वीडियो देख रहे हैं। ये चौथान क्षेत्र की हैं। चौथान भी एक गांव ही है, लेकिन ये गांव खास है। इस गांव में उस महान विभूति का जन्म हुआ, जिन्होंने देश में स्वतंत्रता संग्राम का बीज बोने में अहम भूमिका निभाई। ऐसा वीर योद्धा, जिसने पेशावर कांड को अंजाम दिया। वीर चंद्र सिंह गढ़वाली का नाम तो हर किसी ने सुना ही होगा। सरकार उनके नाम से योजनाएं भी चला रही है, लेकिन हकीकत यह है कि उनका गांव और पूरा क्षेत्र बदहाल है। स्वास्थ्य सुविधाएं शून्य हैं। सड़क जब से आपदा की भेंट चढ़ी, उसे बनाने कोई नहीं आया।

वीर चंद्र सिंह गढ़वाली के जन्म स्थल चौथान क्षेत्र में इन दिनों बुरा हाल है। भारी बारिश के कारण सड़कें टूटी हुई हैं। उस सड़क को वाहनों के चलने लायक बनाने कोई नहीं पहुंचा। नतीजा यह है कि लोगों को 12 किलोमीटर पैदल चलकर सड़क मार्ग तक पहुंचना पड़ रहा है। सामान्य लोग तो किसी तरह आ-जा रहे हैं, लेकिन बुजुर्गों और बीमारों को अस्पताल तक पहुंचाना बड़ी चुनौती साबित हो रहा है।

ऐसा ही एक मामला सामने आया है। गांव की 65 साल की महिला बीमार हो गई। स्वास्थ्य की कोई सुविधा नहीं है। मोटरमार्ग बारिश के कारण खस्ताहाल है। लोगों ने महिला को अस्पताल तक लाने के लिए कुर्सी से डोली बनाई और फिर उसे कंधों पर लादकर 12 किलोमीटर दूर सड़क तक पहुंचाया और फिर वहां से करीब 45 किलोमीटर दूर चखुटिया के अस्पताल लेजाया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here