विश्व तम्बाकू निषेध दिवस : आज हमारे देश में व्यसनों का मक्कड़जाल फैलता जा रहा है-कृषि मंत्री

देहरादून : विश्व तम्बाकू निषेध दिवस के मौके पर रैली का आयोजन किया गया. ईश्वरीय विश्व विद्यालय द्वारा तैयार किये गये अभियान को कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने शिव ध्वज दिखाकर रवाना किया। वहीं इसके बाद ईश्वरीय विश्वविद्यालय में तम्बाकू निषेध दिवस के मौके पर उन्होंने अपने विचार भी व्यक्त किए.

कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा कि आदत तो किसी भी चीज की बुरी होती है और अगर कोई मनुष्य व्यसनों के आदती हो जाये तो उसका सत्यानाश हो जाता है। हमारा भारत देश सारे विश्व का मार्गदर्शन करता था लेकिन आज हमारे देश में व्यसनों का मक्कड़जाल फैलता जा रहा है। सारे विश्व में युवाओं की संख्या सबसे ज्यादा हमारे देश में है लेकिन हमारे युवा व्यसनी बनते जा रहे हैं। जिससे उनकी रचनात्मक, क्रियात्मक शक्ति नष्ट हो रही है। तम्बाकू, शराब, गुटका, और न जाने कितनी प्रकार नशीली चीजें हैं जिनके सेवन से व्यक्ति की शारारिक, मानसिक, सामाजिक और आर्थिक शक्ति नष्ट हो जाती है। अनेक प्रकार से यह लाइलाज रोगों  से भी अधिक खतरनाक है। बीमारियों से एक व्यक्ति मर सकता है लेकिन मादक द्रव्यों के सेवन करने से व्यक्ति स्वयं तो मरता है साथ-साथ मित्र व संबंधियों के लिये दुख का कारण बनता है।

इस अभियान के संचालन के लिए राजयोगिनी ब्रह्माकुमारी मन्जू ने शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि लोगों में एक गलत धारणा यह भी है कि केवल असामाजिक तत्व ही मादक द्रव्यों का सेवन करते हैं। अधिकांश मात-पिता भी इस मामले में अधिक आश्वस्त होते हैं कि उनके बच्चे कभी भी मादक द्रव्यों का सेवन नहीं कर सकते लेकिन यह एक अत्यंत संवेदनशील तथा उलझा हुआ मामला है कि अच्छे चरित्र गठन करने वाले बालक भी मादक द्रव्यों के दुश्चक्र में फँस जाते हैं।

इस अवसर पर राजकुमार जोशी, रमेश कपूर, विजय रस्तोगी, गौरव कपूर, निधि अग्रवाल, प्रदीप सोनकर, गोपाल विजन, आरती, मीना, सोनिया, विमला, शालू, रमा आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here