रेल की पटरियों के बीच में क्यों डाली जाती है गिट्टियां ? ये पत्थर बड़े काम के हैं

रेल की पटरियों की बीच में गिट्टी क्यों डाली जाती है ? कभी सोचा है आपने, नहीं सोचा तो कई बात नहीं है. आज हम आपको इसके पीछे का कारण बताते हैं. वैसे तो गिट्टी बिछाने का अहम उद्देश्य यह है की रेलवे पटरी के बीच घर्षण ना हो और हमारी धरती माता को रेल के इतने भारी भरकम वज़न से कोई दिक्कत ना हो. आइये जानते हैं कुछ और कारण।

आपने नोटिस किया होगा की रेलवे पटरी के बीच में लकड़ी के पटिये बिछाए जाते हैं. इन्ही लकड़ी के पटियों को स्थिर रखने के लिए गिट्टी इस्तेमाल होती है.

इस गिट्टी को रेलवे पटरी पर बिछाए जाने से, लकड़ी के पटिये अपनी जगह से खिसकते नहीं, जिसकी वजह से रेलवे पटरियाँ भी अडिग रहती हैं और उनमें घर्षण नहीं होता. जैसे हमें नज़र आती है वैसे बिलकुल नहीं होती यह गिट्टी. कभी गौर से देखिएगा इसके पत्थर बहुत नुकीले होते है.

इस गिट्टी को बिछाने की एक वजह यह भी है की इतनी भारी रेल के चलने से भार का संतुलन बना रहे और ज़मीन पर कोई नुकसान ना आए.दूसरा कारण यह की बारिश का पानी आसानी से बह सके। गिट्टी इस तरह से बिछाई जाती है की गिट्टी के पटिये ज़मीन की सतह से थोड़े ऊपर की ओर हों ताकि ध्वनि प्रदुषण से भी बचा जा सके.

आप ही सोचिए अगर गिट्टी न बिछाई जाती तो सारे रेलवे स्टेशन धूल से सने हुए होते. एक ज़रा सा ट्रक क्या जाता है पूरी सड़क पर धूल फैल जाती है अब इतनी बड़ी ट्रैन निकलती तो क्या होता.

एक कारण यह भी है कि यदि यह गिट्टी नहीं बिछाई जाती तो रेलवे पटरी के आस पास झाड़िया उग जाती और रेल का गुज़रना तो भूल ही जाइये. इसलिए भी यहाँ गिट्टी बिछाना ज़रूरी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here