राहुल गांधी का हमला, कहा- प्रधानमंत्री के आंसू लोगों को नहीं बचा पाए, लेकिन ऑक्सीजन जरूर बचा ली

राहुल गांधी एक बार फिर केंद्र सरकार और पीएम मोदी पर हमलावर हो गए हैं. जी हां बता दें कि राहुल गांधी ने कोरोना की दूसरी लहर के कहर को लेकर केंद्र सरकार और पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है। इतना ही नहीं राहुल गांधी ने महंगाई को लेकर भी केंद्र सरकार को घेरा है.

कोरोना श्वेत पत्र प्रस्तुत करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में जान गंवाने वाले 90 फीसदी लोगों को बचाया जा सकता था। इसकी बड़ी वजह ऑक्सीजन की कमी थी। पीएम मोदी के आंसू मरने वालों के परिवार के लोगों के आंसू नहीं पोंछ सकते। प्रधानमंत्री के आंसू लोगों को नहीं बचा पाए, लेकिन ऑक्सीजन जरूर बचा ली। लेकिन उन्होंने इसे गंभीरता से नहीं लिया क्योंकि उनका फोकस बंगाल के चुनाव पर था।

राहुल गांधी ने मृतकों के परिजनों को 4 लाख रुपये का मुआवजा न दे पाने को लेकर भी सवाल खड़ा किया।

राहुल गांधी ने केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में इजाफा करके 4 लाख करोड़ रुपये कमाएं हैं। ऐसे में अकेले कमाऊ सदस्यों को खोने वाले परिवारों को कुछ राहत जरूर देनी चाहिए। कोरोना संकट को लेकर अकसर सरकार की आलोचना करने वाले राहुल गांधी ने कहा कि उनकी ओर से पेश किया गया श्वेत पत्र कोरोना की तीसरी लहर की आशंका से निपटने के लिए ब्लूप्रिंट भी है। राहुल गांधी ने कहा कि यदि हम नहीं चेते और पहले से तैयारी नहीं की तो फिर कोरोना की तीसरी लहर देश के लिए विनाशकारी साबित हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here