मंत्री रेखा आर्या पर स्मार्टफोन, साड़ी और सूट खरीद में घोटाले का आरोप

rekha arya and raghunath negi

 

कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या पर एक बड़े घपले का आरोप लगा है। सामाजिक कार्यकर्ता और जनसंघर्ष मोर्चा के अध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने आरोप लगाया है कि अपने पूर्व के कार्यकाल के दौरान रेखा आर्या ने महिला सशक्तिकरण और बाल विकास विभाग में स्मार्टफोन, साड़ी और सूट की खरीद में ‘खेल’ किया है। रघुनाथ सिंह नेगी ने पूरे मामले की जांच की मांग उठाई है।

बड़ी खबर। फिर गुस्से में मंत्री रेखा आर्या, इस IAS के खिलाफ कार्रवाई को लिखी चिट्ठी

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विकासनगर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान रघुनाथ सिंह नेगी ने कहा है कि 2018-19 में महिला सशक्तिकरण और बाल विकास मंत्री रेखा आर्या ने लावा कंपनी के लगभग 44,000 स्मार्ट फोन और पॉवर बैंक खरीदे। ये फोन और पॉवर बैंक 20,067 केंद्रों के लिए खरीदे गए। रघुनाथ सिंह नेगी का आरोप है कि इन मोबाइल फोन की बाजार में कीमत 6500 से 7000 रुपए प्रति फोन के बीच थी जबकि सरकार ने 10000 रुपए प्रति फोन के हिसाब से खरीदे। वहीं मोबाइल फोन में जिस सॉफ्टवेयर या एप को चलाने के लिए लिया गया उसे 6 जीबी रैम और 64 जीबी का स्टोरज चाहिए था। जबकि सरकार द्वारा खरीदे गए फोन की रैम 2 जीबी और स्टोरेज 16 जीबी था। लिहाजा फोन आंगनबाड़ी केंद्रों के किसी काम नहीं आ सके और राज्य को करोड़ों की चपत लग गई।

उत्तराखंड के इन जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश का अलर्ट जारी

रघुनाथ सिंह नेगी ने एक और गंभीर आरोप लगाया है। रघुनाथ सिंह नेगी ने कहा है कि आंगनबाड़ी सहायिकाओं, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं के लिए विभाग ने 66,600 साड़ियां और सूट खरीदे गए। प्रति साड़ी 393 रुपए और प्रति सूट 398 रुपए में खरीदा गया। नेगी का आरोप है कि इन साड़ियों और सूट की गुणवत्ता इतनी खराब है कि ये पहनने के योग्य ही नहीं हैं।

रघुनाथ सिंह नेगी ने रेखा आर्या पर कमीशनखोरी और भ्रष्टाचार का खुला आरोप लगाया है साथ ही पूरे मामले की जांच की मांग भी की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here