मुख्य चौराहे पर होटल को बना दिया क्वारंटीन सेंटर, लोगों की बढ़ी दिक्क्तें, बात नहीं सुनते अधिकारी

टिहरी : जिले के बौराड़ी गणेश चौक के सामने भरत मंगलम होटल में कोरोना संदिग्ध मरीजों को रखे जाने पर गणेश चौक के आसपास रहने वाले परिवारों और दुकानदारों ने विरोध करना शुरू कर दिया ह. आसपास के रहने वाले लोगों ने बताया कि गणेश चौक एक ऐसा सार्वजनिक स्थान है, जहां पर हर समय लोगों का आवागमन रहता है. साथ ही आसपास कई ऐसे परिवार हैं, जहां छोटे बच्चे भी रहते हैं और लोगों का आवागमन बना रहता है.

ऐसे में गणेश चौक के समीप होटल में जो संदिग्ध कोरना मरीज को रखा गया है उनसे आवागमन आने जाने वाले लोग संक्रमित ना हो पाए इसलिए गणेश चौक के समीप होटल में रखे संदिग्ध कोरोना मरीजों को शहर से किनारे किसी सुरक्षित स्थान या होटलों में रखा खा जाए जिससे आने जाने वाले लोग संक्रमण होने से बचाया जा सके. गणेश चोक के सामने होटल में कोरोना संदिग्ध मरीजो को रखे जाने पर स्थानीय लोगों ने विरोध करना शुरू कर दिया है. लोगों ने बताया कि जिस होटल में मरीजो को रखा गया है, लोग बाहर आ रहे आने के साथ ही थूक भी रहे हैं.

जिससे सार्वजनिक स्थान पर आने-जाने वाले लोगों के संक्रमित होने की संभावना बनी हुई है. इसलिए स्थानीय लोगों ने जिला प्रशासन से मांग की है कि संदिग्ध मरीजों को कहीं बाहर शिफ्ट किया जाए. टिहरी जिले में कोरना को लेकर लोगों के दिलों में डर बढ़ता जा रहा है. जैसे ही टिहरी जिले में 6 कोरोना पॉजिटिव मरीज की पुष्टि हुई है, तब से टिहरी के लोगों में डर बैठ गया. जब इस मामले में जिले के चिकित्सा अधिकारी से बात करनी चाही, तो उन्होंने बात करने से मना कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here