एसएसपी के सामने तमंचा रखकर बोला युवक, मैं ही हूं अपनी प्रेमिका कातिल

बरेली। शादी के लिए साथ चलने से इन्कार करने पर एक प्रेमी ने पहले अपनी प्रेमिका को बाल पकड़कर सड़क पर घसीटा, फिर उस पर पांच गोलियां दाग दी और उसकी हत्या कर दी। घटना के दौरान आसपास मौजूद किसी भी राहगीर या दुकानदार ने उसकी कोई मदद नहीं की। यहां तक की युवती के साथ चल रहा उसका मौसेरा भाई भी मौके से भाग गया।

वारदात के बाद पुलिस ने जांच पड़ताल के बाद हत्या का मुकदमा तो दर्ज कर लिया था लेकिन हत्यारोपित पुलिस के हाथ नहीं आ सका। आरोपी की तलाश के लिए पुलिस की कई टीमें गठित की गई जो शाहजहांपुर से लेकर दिल्ली तक में उसकी तलाश कर रहीं थी,लेकिन युवक खुद मंगलवार को बरेली एसएसपी के कार्यालय तमंचा लेकर पहुंच गया। तमंचा मेज पर रखकर एसएसपी से बोला मैं ही हूं अपनी प्रेमिका कातिल।

आपको बता दें कि फतेहगंज पूर्वी के डगरौली गांव निवासी युवती उजाला सोमवार को बाइक से अपने मौसेरे भाई के साथ बाजार गई थी। बाजार से लौटते समय युवक रजनेश बाइक से आया और उजाला की बाइक में टक्कर मार दी। इससे उजाला और उसका मौसेरा भाई सड़क पर गिर गए। उजाला के गिरते ही रजनेश अपनी बाइक से उतरा और उजाला से शादी के लिए साथ चलने को कहने लगा। उजाला ने साथ चलने से इन्कार किया। रजनेश ने उसके बाल पकड़े और काफी दूर तक सड़क पर घसीटता हुआ ले गया लेकिन प्रेमिका के तब भी नहीं मानने पर रजनेश ने उस पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इस दौरान मौके पर कई लोग मौजूद थे लेकिन किसी ने मदद नहीं की। मौसेरा भाई भी उजाला को अकेला छोड़कर भाग गया था। पुलिस रजनेश की तलाश में जुटी थी

पुलिस टीमें शाहजहांपुर सेे लेकर दिल्ली तक में उसकी तलाश कर रहीं थींं लेकिन रजनेश मंगलवार को खुद ही एसएसपी रोहित सिंह सजवाण के पास सरेंडर करने के लिए पहुंच गया। उनके सामने मेज पर खाली तमंचा रखकर बोला कि मैंने ही उजाला की हत्या की है। वो प्रेमिका थी, मगर शादी से इन्कार कर रही थी। कई बार समझाने पर भी नहीं मानी तो गोलियां मारकर हत्या कर दी। इससे पहले एसएसपी कार्यालय के बाहर स्टाफ को उसने अपना नाम बताया। सरेंडर की बात कही थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here