देहरादून पुलिस के नए ट्रैफिक प्लान से जनता नाखुश, खबर उत्तराखंड की पोस्ट पर दी प्रतिक्रियाएं

देहरादून : देहरादून पुलिस के नए ट्रैफिक प्लान के लिए लोगों की क्या राय है ये जानने के लिए खबर उत्तराखंड ने एक पोल की शुरुआत की थी जिसमे लोगों से सवाल पूछा गया था कि क्या आपको देहरादून पुलिस का नया ट्रैफिक प्लान पसंद आय़ा.  जिसमे लोगों ने अपनी-अपनी प्रतिक्रियाएं दी। अधिकतर लोगों ने देहरादून पुलिस के नए ट्रैफिक प्लान के प्रति निराशा जाहिर की औऱ इस प्लान को फिसड्डी बताया। जनता का कहना है कि लोगों को परेशान करने का ये मास्टर प्लान है।

खबर उत्तराखंड की पोस्ट पर लोगों ने जमकर दी प्रतिक्रियाएं

खबर उत्तराखंड की पोल पोस्ट में आए कमेंट से साफ जाहिर है कि लोगों को देहरादून पुलिस का नया ट्रेफिक प्लान बिल्कुल नहीं भाया. लोगों का कहना है कि नए ट्रैफिक प्लान से जाम की स्थिति और खराब हुई है ना की बेहतर हुई है. लोगों ने खबर उत्तराखंड की इस पोस्ट पर जमकर प्लान के प्रति भड़ास निकाली है। यहां तक कि कुछ लोगों का कहना है कि पुलिस वालों को भी ये ट्रैफिक प्लान समझ नहीं आया है। लोगों ने देहरादून पुलिस के ट्रैफिक प्लान से नाखुशी जाहिर की है।

लोगों का कहना-हमे जाम से निजात दिलवाइए

यूजर्स ने कहा कि “देहरादून पुलिस के नए ट्रैफिक प्लान से चौपहिया वाहनों को जाम औऱ पेरशानी का सामना करना पड़ रहा है”। एक यूजर ने लिखा कि “हमे जाम से निजात दिलवाइए,और सहारनपुर चौक पर लेफ्ट टर्न पर लाइन से लगे कई विक्रम से भी आज़ादी दिलवाइए, क्यूोंकि ट्रेफिक कर्मी कभी भी इसे गंभीरता से नहीं लेते,आपका हम वरिष्ठ नागरिकों पर बड़ा एहसान रहेगा”.

एम्बुलेंस तक नहीं निकल पा रही है-यूजर

वहीं एक यूजर ने लिखा कि देहरादून ट्रैफिक का बुरा हाला है, एम्बुलेंस तक नहीं निकल पा रही है। किसी का कहना है कि ये ट्रैफिक प्लान कार, बाइक, बस को देखते हुए बनाया गया है ऐसे में पैदल लोग कहां जाएंगे। कहा कि पैदल चलने वालों के लिए रोड क्रॉस करना मौत के मूंह में जाने के बराबर है।

 

ये टेबल पर कागज मे बनाया गया प्लान है-यूजक

एक यूजर ने लिखा कि “लगता है कि प्रशासन गाड़ी चलवाना चाहता है, घर नहीं और व्यापार तो बिल्कुल नहीं”। एक ने लिखा कि ये टेबल पर कागज मे बनाया गया प्लान है।जो कि धरातल से कोसों दूर है। एक ने लिखा कि बिल्कुल बेकार बच्चों को स्कूल से लाने लेजाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

“बकवास…जिसने भी ये ट्रैफिक प्लान बनाया है वो-यूजर

वहीं दूसरे यूजर ने कमेंट किया कि “बकवास…जिसने भी ये ट्रैफिक प्लान बनाया है वो एक बार बेहल चौक से मेन पोस्ट ऑफिस जीपीओ तक जाकर देखें कि कितना टाइम लगता है अगर किसी इमरजेंसी तो वो जाते जाते पागल हो जाएगा।…अगर ट्रैफिक अच्छा चाहिए तो सिटी के सब कट खोल दो तब देखो कितना आसान हो जाएगा…इस टाइम ट्रैफिक पुलिस वाले भी टेंशन में हैं कि ये किसने प्लान बनाया..

एसएसपी का बयान

जो भी हो लोगों की अपनी-अपनी प्रतिक्रियाएं है। लोगों ने देहरादून पुलिस के नए ट्रैफिक प्लान के प्रति निराशा जाहिर की है. हालांकि देहरादून एसएसपी ने इस प्लान को काफी हद तक सफल बताया है।दून एसएसपी और डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने बताया की ट्रैफिक प्लान करके स्टडी की जा रही है और कहीं पर भी जाम लगने की सूचना नहीं है। पहले दिए किए ट्रैफिक प्लान में जो भी खामिया रहेगी उसको सही करने के बाद ट्रैफिक प्लान लागू किया जायेगा। देहरादून एसएसपी का कहना है कि ये प्लान सफल साबित हो रहा है और आगे इसे बेहतर किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here