प्रधानमंत्री मोदी का केदारनाथ से है खास लगाव, क्यों आते हैं बार-बार? पढ़िए ये खास खबर…

pm modi in kedarnath cave

गुजरात में तकरीबन 20 साल मुख्यमंत्री रहे नरेंद्र मोदी ने जब प्रधानमंत्री पद संभाला उसके बाद से वह लगातार उत्तराखंड में केदारनाथ के दर्शन के लिए आते रहें हैं।

पीएम मोदी पहली बार 3 मई 2017 को केदारनाथ पहुंचे आए थे। इसी साल प्रधानमंत्री मोदी 20 अक्टूबर को फिर से केदारनाथ में दर्शन के लिए आये थे। इसके बाद प्रधानमंत्री 7 नवंबर 2018 को तीसरी बार केदारनाथ आये थे।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2013 में केदारनाथ में आई आपदा के दौरान आए थे। उस समय वह गुजरात के मुख्यमंत्री थे। उत्तराखंड में आपदा प्रभावितों के लिए उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है। आपदा के बाद केदारनाथ मंदिर के पुनर्निर्माण का प्रस्ताव नरेंद्र मोदी ने ही दिया था। उस वक्त नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे। प्रधानमंत्री बनने के बाद केदारनाथ धाम की यह उनकी पांचवीं यात्रा है। नरेंद्र मोदी छह बार बाबा केदार के द्वार पर आ चुके हैं।

पीएम मोदी ने की भगवान केदारनाथ की विशेष पूजा, रोपवे का शिलान्यास भी

केदारनाथ में की थी साधना

भगवान आशुतोष के ग्याहरवें ज्योतिर्लिंग केदारनाथ धाम के प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगाध आस्था है। अस्सी के दशक में डेढ़ माह तक केदारपुरी में मंदाकिनी नदी के बायीं तरफ गरूड़चट्टी में उन्होंने लगभग डेढ़ माह तक साधना की थी। तब वह प्रतिदिन बाबा के दर्शन के लिए केदारनाथ मंदिर में आते थे। कहते हैं कि उसी समय से पीएम मोदी की बाबा केदारनाथ के लिए अगाध आस्था जागी जो आज तक जारी है। पीएम मोदी के भगवान शिव से इस लगाव को अब पूरा देश जानता है।

पीएम बनने के बाद भी नरेंद्र मोदी ने केदारनाथ धाम में आकर शिव साधना की है। पीएम मोदी ने केदारनाथ मंदिर के पास ही बनी गुफाओं का रिनोवेशन के बाद उद्घाटन भी किया। इसके बाद पीएम मोदी ने लगभग 17 घंटों तक इसी में से एक गुफा में बैठकर शिव साधना भी की।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here