उत्तराखंड बोर्ड परीक्षा के लिए परिषद ने की तैयारी, कक्ष निरीक्षक भी नहीं कर पाएंगे मोबाइल इस्तमाल

रामनगर-
उत्तराखण्ड बोर्ड की दसवीं ,बारहवीं की परीक्षा सोमवार से शुरू होने जा रही है | जिसको लेकर उत्तराखण्ड विद्यालयी शिक्षा परिषद ने अपनी सभी तैयारियाँ पूरी कर ली है | बोर्ड,परीक्षाओ को नक़ल विहीन बनाने के लिए सचल दलों का गठन किया गया है |
प्रदेश में बनाये गये 1309 परीक्षा केन्द्रो पर नक़ल पर लगाम कसने के लिए राज्य स्तर पर 3 सचल दल बनाये गये है | जबकि कुमाऊँ और गढ़वाल मण्डल में 2-2 सचल दल ए.डी.के नेतृत्व में बनाये गए है | साथ ही बोर्ड स्तर पर तीन सचल दल परीक्षा केन्द्रों पर  अपनी निगरानी बनाये रखेंगे |
वहीं नक़ल को रोकने के लिए आवश्यकता अनुरूप जिला स्तर पर  जिला शिक्षाधिकारियों व प्रारम्भिक शिक्षाधिकारियों की टीमों का भी गठन किया गया है | इसके अलावा परीक्षा केन्द्रो पर नकलची परीक्षार्थी किसी भी प्रकार की नक़ल सामग्री परीक्षा कक्ष तक ना जा पाये इसके लिए गेट पर सघन तलाशी अभियान चलाया जायेगा | ये जानकारी उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद की सचिव नीता तिवारी ने दी। 
उन्होे बताया कि किसी भी परीक्षार्थी को मोबाइल,टेबलेट,सेल्युलर फोन,इलेक्ट्रॉनिक डायरी इत्यादि परीक्षा कक्ष में अपने साथ ले जाने की इजाजत नहीं है | वहीं कक्ष प्रभारी,सचल दल प्रभारी तथा दूसरे ड्यूटी पर तैनात दूसरे शिक्षा कर्मी भी परीक्षा के दौरान अपने साथ मोबाइल फोन कक्ष में नहीं ले जा पाएंगे।
गौरतलब है कि  5 मार्च सोमवार से इण्टर मीडिएट की परीक्षा हिन्दी के प्रश्न पत्र के साथ सुबह 10 बजे से शुरू हो रही है | जबकि हाईस्कूल की परीक्षाओं का आगाज़ मंगलवार 6 मार्च से हिंदी के पेपर के साथ सुबह 10 से शुरू होगा |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here