प्रेमचंद अग्रवाल की त्रिवेंद्र सरकार को नसीहत, राजस्व से ज्यादा जनता की सेहत का ध्यान रखना होगा

देहरादून : लॉकडाउन के तीसरे चरण में शराब की दुकानें खुलने के बाद उमड़ी भारी भीड़ पर उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने चिंता जाहिर की है. उन्होंने कोरोना संकट के बीच शराब की दुकाने खोलने जाने का विरोध किया है.

आपको बता दें कि सोमवार यानी की 4 मई से उत्तराखंड के ग्रीन जोन वाले इलाकों में शराब की दुकानें खोली गई। इस दौरान भारी भीड़ शराब खरीदने वालों की देखी गई। पुलिस द्वारा कई जगहों पर लाठियां फटकारी गई। सुबह से ही लोग शराब खरीदने के लिए घर से निकलकर दुकान के बाहर लाइन में लग गए.



राजस्व की चिंता जनता की सेहत के बाद होनी चाहिए-अध्यक्ष

इस पर विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल का कहना है कि ऐसे में कोरोना का संक्रमण बढ़ सकता है…सरकार को राजस्व से ज्यादा जनता की सेहत का ख्याल रखना होगा…राजस्व की चिंता जनता की सेहत के बाद होनी चाहिए और शराब की दुकानों में जो भीड़ लगी है और सोशल डिस्टेंस का पालन भी नहीं किया जा रहा है। ऐसे में कोरोना वॉरियर्स की मेहनत व्यर्थ जाएगी…और सरकार को अपने इस आदेश पर पुन: विचार करना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here