हरदा के ‘जय श्री गणेश’ पोस्टर से गर्मायी सियासत, कौशिक बोले- मांगें सार्वजनिक माफी

देहरादून : बीते दिन सोमवार को पूर्व मुख्यमंत्री और चुनाव अभियान समिति अध्यक्ष हरीश रावत के सोशल मीडिया पर एक पोस्टर शेयर किया था जिससे उत्तराखंड की राजनीति गर्मा गयी है। हरदा के ‘जय श्री गणेश’ वाले पोस्टर को लेकर भाजपा ने कांग्रेस को घेरा और कांग्रेस से सार्वजनिक माफी मांगने की मांग की है।

‘जय श्री गणेश’ पोस्टर से गर्मायी सियासत

आपको बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत कांग्रेस के नए अध्यक्ष गणेश गोदियाल का एक पोस्टर शेयर किया है जिसमे लिखा है ‘जय श्री गणेश’. बीते दिनों ही हरीश रावत ने ‘जय श्री गणेश’ नाम के साथ पार्टी के हर कार्यक्रम को शुरू करने की घोषणा की थी। हरीश रावत ने गणेश गोदियाल को केंद्र में रखकर ‘जय श्री गणेश’ पोस्टर जारी किया। पोस्टर में गणेश गोदियाल भगवान गणेश के सामने हाथ जोड़कर खड़े हैं। इसके नीचे उन्हें देव वेशभूषा में विभिन्न अस्त्रों से प्रहार करते हुए दिखाया गया है।

सोशल मीडिया पर छाया कांग्रेस का पोस्टर

गणेश गोदियाल को वज्र से महिला अपमान, त्रिशूल से महंगाई और कोरोना के बढ़ते संक्रमण, चक्र से बेरोजगारी, तीर से गरीबी, नागपाश से भ्रष्टाचार और दलबदल और फरसे से कुशासन और ठप विकास पर प्रहार करते हुए दर्शाया गया है। सोशल मीडिया पर यह पोस्टर चर्चाओं का विषय बन गया और काफी वायरल हो रहा है।

वहीं इससे सियासत गर्मा गई है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने इस पोस्टर को लेकर कांग्रेस पर हमला किया है। मदन कौशिक ने कहा कि यह वही कांग्रेस है, जिसने एक बार सोनिया गांधी को देवी के रूप में प्रदर्शित किया था, लेकिन तब जनता ने उसे सबक सिखाया। उन्होंने कहा कि राममंदिर के अस्तित्व को नकारने वाले लोग आज फिर से ऐसी हरकतों पर उतारू हो गए हैं। जनता इन्हें सबक सिखाएगी। उन्होंने कहा कि हिंदू धर्म को अपमानित करने का किसी को कोई अधिकार नहीं है। कांग्रेस को अपने कृत्य के लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here