उत्तराखंड रोडवेज बस के चालक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, लाइसेंस निरस्त…जानिए क्यों?

बागेश्वर : उत्तराखंड नशे की चपेट में है। युवा पीढ़ी नशे में अपना भविष्य बर्बाद कर रही है। नशा धड़ल्ले से बिक रहा है। पहाड़ों में चालक द्वारा शराब पीकर वाहन चलाने के करण हादसे हो रहे हैं लेकिन इन हादसों से कोई सीख नहीं ले रहा है। एक ऐसा ही ताजा मामला बागेश्वर से सामने आया है। गुरुवार को नशे की हालत में बस चला रहे एक रोडवेज चालक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उसका लाइसेंस निरस्त करने के लिए एआरटीओ को भेजा गया है

आपको बता दें कि गुरुवार को डंगोली चौकी पुलिस टीम क्षेत्र में गश्त कर रही थी। देवाल से आ रही रोडवेज की बस को कंधार वैरियर पर रोका गया। चालक खतरनाक तरीके से बस को दौड़ा रहा था। जैसे ही पुलिस ने बस को रोका तो यात्री उसकी शिकायत करने लगे। जांच में चालक डंगोली निवासी गोविंद नाथ शराब के नशे में पाया गया। तब तक वह करीब 25 किमी बस चला चुका है। कोई बड़ी दुर्घटना हो सकती थी। लेकिन उससे पहले ही पुलिस ने चेकिंग के लिए रोक दिया और उसे गिरफ्तार करिया। पुलिस ने उसका लाइसेंस निरस्त करने के लिए एआरटीओ भेजा।

पुलिस ने चालक को मोटर वाहन अधिनियम की धारा 184, 185, 202, 207 के तहत चालान कर गिरफ्तार किया। वाहन को पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया। बस में बैठे यात्रियों को अन्य वाहनों से गंतव्य स्थानों की ओर भेजा। चौकी प्रभारी भूपेंद्र मेहता ने बताया कि चालक का ड्राइविंग लाइसेंस निरस्त करने के लिए परिवहन कार्यालय को प्रेषित किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here