बनबसा इंटरनॅशनल मार्ग पर पुलिस और SSB को मिला स्कैनिंग मशीन का साथ, अब खैर नहीं

चंपावत : उत्तराखंड के चम्पावत जनपद से नेपाल को जोड़ने वाले बनबसा इंटरनॅशनल मार्ग पर आए दिन होने वाली तस्करी की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए अब सीमा पर तैनात पुलिस व एसएसबी के जवानों को स्कैनिंग मशीन का साथ मिला। सीमा पर सुरक्षा के लिए तैनात जवान अब सीमा पार आने जाने वाले यात्रियों के समान की स्कैनिंग कर सकेंगे।

बता दें कि उत्तराखंड के सीमान्त  जनपद चम्पावत के बनबसा बॉर्डर से रोज हजारो की संख्या में यात्री नेपाल से आवागमन करते हैं। ऐसे में सीमा पर तैनात पुलिस एवं एसएसबी के जवानों के लिए सबसे ज्यादा कठिन काम होता है। सीमा पार से आने जाने वाले हर यात्री के सामान की पूरी तरह से तलाशी करना जिसके लिए यात्री के सामान को खोलने व तलाशी लेने के लिए काफी ज्यादा मैनपॉवर व समय खर्च  होता है। ऐसे में अब सीमा पर तैनात सुरक्षा अधिकारियों को साथ मिला है। स्कैनिंग मशीनों का जिनके प्रयोग से न तो यात्रियों के सामान को खोलना पड़ता है और न ही ज्यादा समय लगता है।

बता दें कि पहले अक्सर ऐसी स्कैनिंग मशीनों का प्रयोग हवाई अडडों पर किया जाता था लेकिन अब सीमावर्ती क्षेत्रों में पैदल व मोटर वाहनों के प्रयोग में आने वाले मार्गो पर इस मशीनों की तैनाती से एक ओर जहां जरूरी संसाधनों व समय की बचत हो रही है, तो वहीं इन मशीनों से तलाशी की प्रक्रिया भी इतनी पुख्ता है कि इनकी नजर से बचकर एक सुई भी सीमा पर नहीं जा सकती है जिससे अराजक तत्वों द्वारा किसी भी अनहोनी को अंजाम दिया जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here