उत्तराखंड : पीसीसी चीफ ने भेजा सीएम को पत्र, वैट की दरों में कटौती की मांग

देहरादूून : उत्तराखण्ड के कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने पेट्रोलियम पदार्थों के दामों व लगातार बढ़ती मंहगाई पर अंकुश लगाने के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत को पत्र लिखकर वैट की दरों के राज्यां में कटौती की मांग की है।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत को लिखे पत्र में प्रदेष कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि पेट्रोलियम पदार्थों (डीजल, पेट्रोल, रसोई गैस) के दामों में लगातार हो रही वृद्धि से आम जरूरत की चीजों के दामों में कई गुना वृद्धि के कारण आम जन पीड़ित है। पेट्रोलियम पदार्थों के दामों में वृद्धि के कारण खाद्य्य पदार्थों सहित सभी चीजों के दामों में स्वाभाविक रूप से वृद्धि होनी निश्चित है। विषेशकर खाद्य्य पदार्थों की बढ़ती कीमतों के कारण आम आदमी को दो वक्त की रोटी के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। मंहगाई की मार से पीड़ित जनता के ऊपर राज्य सरकार द्वारा राज्यांश के रूप में लिये जाने वाले करों का बोझ आम आदमी के जीने की राह और कठिन बना रहा है। देश के कई राज्यों पंजाब, राजस्थान आदि में राज्य सरकारों द्वारा पेट्रोलियम पदार्थों पर राज्यांश के रूप में लिये जाने वाले वैट की दरों में कमी कर जनता को मंहगाई से राहत पहुंचाने का काम किया गया है।
प्रीतम सिंह ने कहा कि उत्तराखण्ड की विषम भौगोलिक परिस्थितियों, किसानों के पास कृषि भूमि की अल्पता तथा प्रत्येक वर्ष आने वाली दैवीय आपदा के कारण ग्रामीण क्षेत्र के परिवार भरण-पोषण के संकट से गुजर रहे हैं, ऐसे में राज्य सरकार का नैतिक दायित्व बन जाता है कि वह राज्य की जनता के हितों की रक्षा करे तथा कल्याणकारी राज्य की भावना का पोषण करें।

उन्होंने कहा कि राज्य के किसी परिवार के सामने भरण-पोषण का संकट न हो इस हेतु अन्य राज्यों की तर्ज पर उत्तराखण्ड राज्य में पेट्रोलियम पदार्थों (डीजल, पेट्रोल, रसोई गैस) पर राज्यांश के रूप में लिये जाने वाले वैट की दरों में कमी की जानी चाहिए ताकि राज्य की जनता को बढ़ती मंहगाई से राहत मिल सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here