एक बार फिर दिखा कैम्पटी फॉल का रौद्र रुप, बाल-बाल बचे 200 से ज्यादा पर्यटक

कैंपटी : उत्तराखंड में इन दिनों भारी बारिश से नदी-नाले उफान पर हैं. पहाड़ी जिलों में बारिश का कहर जारी है। लगाार भूस्खलन से कई सड़कें बंद हैं। इसी बीच सोमवार शाम को करीब 4 बजे मसूरी में हुई भारी बारिश से कैम्‍पटी फॉल में उफान आ गया. गनीमत रही कि कैम्‍पटी थाना पुलिस ने झरने में नहा रहे 200 से ज्यादा पर्यटकों को वहां से हटाया और सुरक्षित स्थान पर भेजा। एक बार फिर से पर्यटकों के कैंपटी में जाने पर रोक लगा दी गई है

आपको बता दें कि मामला सोमवार का है। अचानक कैम्‍पटी फॉल उफान पर आ गया जिससे मौके पर अफरा तफरी मच गई। थाना पुलिस की मुस्तैदी से विभिन्न झरनों में नहा रहे पर्यटकों और मुख्य झरने के आस-पास के दुकानदारों को वहां से हटाया गया. इस दौरान दो पर्यटक और कुछ पुलिस कर्मी झरने के दूसरे छोर पर फंस गए, जिन्‍हें झरने में पानी कम होने पर वहां से निकाला गया. पर्यटकों की सुरक्षा के मद्देनजर कदम उठाया गया.

दरअसल उत्तराखंड के पहाड़ों में हो रही लगातार बारिश हो रही है जिस कारण कई बार कैम्पटी फॉल पर पानी उफान पर आ जाता है। इससे पहले भी ऐसा हुआ है। कैंपटी में पानी की बेहद तेज धार बहने लगा। पानी की धार इतनी तेज थी कि अगर गलती से भी कोई इसकी चपेट में आता तो अनहोनी हो सकती थई। कैम्पटी के ऊंचाई वाले स्थानों पर हुई भारी बारिश की जानकारी थानाध्यक्ष नवीन चंद्र जुराल को मिल गई थी. वे तत्काल दल बल के साथ कैम्पटी पहुंचे और वहां नहा रहे सैलानियों को झील से बाहर निकाला और आसपास घूम रहे सैलानियों को भी सुरक्षित स्थान पर भेजा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here