अब हरदा ने कांग्रेस को दी नसीहत, कहा- प्रदेश में सिर्फ अध्यक्ष पद का चेहरा बदला है

देहरादून : 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा समेत कांग्रेस और आप ने कमर कस ली है। बीते दिनों कांग्रेस ने अपनी टीम तैयार की और जीतने का दावा किया। भाजपा-कांग्रेस और आप की सीधी टक्कर है। तीनों पार्टियां प्रदेश की जनता को लुभाने के लिए जनता को सरकार आने पर फ्री बिजली देने का वादा कर रहे हैं।हरीश रावत भी इन दिनों खासा चर्चाओं में हैं। आखिर पार्टी ने उनका महत्वपूर्व जिम्मेदारी जो दी है। बता दें कि पार्टी हाईकमान ने चुनाव प्रचार प्रसार की जिम्मेदारी हरीश रावत को सौंपी है। लेकिन बता दें कि टीम के ऐलान के बाद हरीश रावत ने अब सरकार पर नहीं बल्कि कांग्रेस को ही नसीहत दी है।

हरीश रावत ने सोशल मीडिया के जरिए कहा कि हम सबको मिलकर 2022 में कांग्रेस की विजय के लिए काम करना है। राज्य में केवल अध्यक्ष पद पर चेहरा बदला है, नेतृत्व आज भी वही पुराना है। इसलिये अपने पोस्टरों में, अपने व्यवहार में सभी नेतागणों को महत्त्व दें। नेतृत्व एक दिन में नहीं बनता है, एक पोस्टर से न बनता है, न बिगड़ता है, हां पार्टी का वातावरण जरूर इससे बिगड़ता है। इसलिए हमारा कोई सहयोगी पार्टी का वातावरण बिगाड़ने का प्रयास अपने काम से जाने-अनजाने में भी न करें।

इससे साफ है कि 2022 के लिए हरीश रावत और कांग्रेस कोई भी चूक नहीं करना चाहती है और इसलिए कांग्रेस ने हरदा को जिम्मेदारी और अब हरीश रावत ने अपनी पार्टी को नसीहत दी है ताकि मिलकर 2022 में चुनाव में जीत हासिल कर सकें.क्योंकि अभी तक कांग्रेस से कलह की खबरें सामने आती रही है। प्रदेश अध्यक्ष औऱ नेता प्रतिपक्ष के लिए चुनाव के लिए भी कांग्रेस को काफी दिन लग गए थे। लेकिन अब पार्टी का फोकस सिर्फ 2022 के चुनाव और जीत हासिल करने पर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here