नोटबंदी का फैसला बेतुका फरमान- मोहम्मद शहजाद पूर्व विधायक

मोहम्मद शहजाद बीएसपी नेता

रुड़की- 1000 और 500 रूपये के नोट बंद होने बाद जनता को हो रही भारी परेशानी के बाद अब पूर्व विधायक मोहम्मद शहजाद ने केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए सडको पर उतर कर आन्दोलन की चेतावनी दी है। शहजाद का आरोप है कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस फैसले से उनके चेहते नेताओ और पूंजीपतियों को फायदा पहुँचा है जबकि आम जनता को कतार में लगने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। पूर्व विधायक शहजाद ने सरकार के नोटबंदी के फैसले को बेतुका करार देते हुए कहा है कि आम जनता इस बेतुके फरमान से इतनी परेशान है की मजदूर लोग रूपये बदलने के लिए बैंक के बाहर अपनी दिहाड़ी छोड़ कर खडे़ हैं। जबकि सोने पे सुहागा अरुण जेटली के फरमान ने कर दिया जिस पर एक ही आई डी पर एक व्यक्ति मात्र चार हज़ार रूपये  ही  निकाल सकता है। मोहम्मद शहजाद ने कहा की अब वह समय आ गया है जब जनता उनके साथ सडको पर उतर कर सरकार के इस रवैए का विरोध करेगी और इसका आगाज़ उन्होंने आज ही कर दिया है। पूर्व विधायक का कहना है कि मोदी सरकार के अच्छे दिन आज से खत्म हो गए हैं। शहजाद का आरोप है कि इस तरह के फैसले लेकर मोदी ने देश की गरीब जनता को परेशांन किया है, जबकि अपने भाजपा के नेताओ और पूंजी पतियों के काले धन को वह पहले ही ठिकाने लगवा चुके है। शहजाद के कुछ आरोपों में कितनी सच्चाई है ये तो वक्त ही बताएगा लेकिन इस बात सें इंकार नहीं किया जा सकता कि एटीएम और बैंकों के बाहर खड़ी आम जनता को पांचवें दिन भी राहत नहीं मिली है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here