तो सरकार नहीं, वन विभाग नहीं जयराज की पत्नी ने किया वन विभाग का काम, हद्द है भाई हद्द है

देहरादून : वन विभाग ने आनंद वन के नाम से एक सिटी वन विकसित किया है। इसमें उत्तराखंड की जैव विधिता को आप जदीक से निहार सकते हैं। झझरा रेंज में बने इस सिटी फोरेस्ट की ओपनिंग आज सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने की, लेकिन यहां सिटी फोरेस्ट, उसके शुभारंभ और विशेषताओं से ज्यादा पीसीसीएफ अपनी पत्नी साधना के बारे में बात करते रहे। बाकायदा बोर्ड भी उनकी पत्नी साधना की महिमा का जिक्र किया गया है, जिसमें सीएम, वन मंत्री और विधायक सग्देव पुंडीर का नाम लिखा गया है।

मामला केवल नाम तक ही सीमित नहीं रहा। इसमें यहां तक लिखा गया कि यह पूरी योजना की पीसीसीएफ जयराज की पत्नी साधना जयराज की है और इंप्लीमेंटेशन भी उन्होंने ने ही किया है। सवाल इस बात का है कि सरकार कार्यक्रम और लोकापर्ण कार्यक्रम में पीसीसीएफ की पत्नी का नाम क्यों लिखाया गया। हैरत तो इस बात की है कि सीएम और वन मंत्री दोनों ही कार्यक्रम में शामिल रहे।

बताया जा रहा है कि कार्यक्रम में संबोधन के दौरान भी पीसीसीएफ जयराज अपनी पत्नी साधना जयराज की तारीफों के पुल बांधते रहे। उन्होंने अपनी पत्नी को दशरथ मांझी जैसा काम करने तक की बात कह डाली। कुलमिलाकर सरकारी कार्यक्रम पूरी तरह जयराज और उनकी पत्नी का होकर रह गया। अब इस पर सवाल खड़े हो रहे हैं कि आखिरी मुख्यमंत्री और वन मंत्री की मौजूदगी में ऐसा कैसे हुआ। क्या इस पर कोई कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here