ख़ास खबर : काशी-मथुरा नहीं, ‘2 बच्चे’ RSS का अगला एजेंडा!

मुरादाबाद: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत ने इशारा किया है दो बच्चों से जुड़ा कानून संघ का अगला अजेंडा हो सकता है। चार दिवसीय दौरे पर मुरादाबाद पहुंचे भागवत ने जिज्ञासा समाधान सत्र के दौरान संघ के कार्यकर्ताओं से बात की। कानकारी के मुताबिक इस दौरान संघ प्रमुख ने यह भी कहा कि काशी और मथुरा का मुद्दा आरएसएस के अजेंडे में नहीं है।

पहली बार मुरादाबाद पहुंचे मोहन भागवत ने शहर के रामगंगा विहार स्थित मुरादाबाद इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी  के सभागार में जिज्ञासा समाधान सत्र में हिस्सा लिया। इस दौरान आरएसएस की क्षेत्रीय कार्यकारिणी के करीब 40 पदाधिकारी मौजूद रहे। संघ से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि भागवत ने साफ कहा कि जनसंख्या नियंतरण के तहत दो बच्चों के कानून को आरएसएस का समर्थन रहेगा। हालांकि साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि इस मुद्दे पर सरकार को फैसला लेना है।

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में आरएसएस चीफ ने कहा कि संघ की भूमिका इस मामले में सिर्फ ट्रस्ट निर्माण होने तक है। इसके बाद संघ खुद को राम मंदिर मामले से अलग कर लेगा। एक अन्य सवाल के जवाब में भागवत ने यह भी कहा कि मथुरा मतलब कृष्ण-जन्मभूमि और काशी यानी विश्वनाथ-मंदिर संघ के अजेंडे में कभी नहीं था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here