कोर्ट में रो पड़ीं निर्भया की मां, तारीख पर तारीख के सिलसिले से दुखी, बोली मैं भी इंसान हूं…

दिल्ली: आपने सनी देवोल की फिल्म देखी होगी, जिसमें उनका डायलाॅग है तारीख पर तारीखी…। कुछ ऐसा निर्भया के दोषियों की फांसी को लेकर हो रहा है। इससे नाराज निर्भया की मां खासी नाराज और दुखी हैं। आज उम्मीद थी कि निर्भया के दोषियों की फांसी की तारीखी तय हो जाएगी, लेकिन आज फिर से फांसी की तारीख टल गई। परेशान होकर निर्भया की मां धरने पर बैठ गई हैं।

निर्भया की फांसी की नई तारीख आज फिर जारी नहीं हुई। अदालत ने इस केस की सुनवाई गुरुवार तक के लिए टाल दी। इस दौरान कोर्ट में मौजूद हुई निर्भया की मां वहीं रो पड़ीं और जज से दोषियों के नाम डेथ वारंट जारी करने की अपील की। उन्होंने अदालत से पूछा कि मेरे अधिकारों का क्या होगा? मैं हाथ जोड़कर आपके सामने खड़ी हूं। प्लीज डेथ वारंट जारी कर दीजिए।

मैं भी इंसान हूं। सात साल से ज्यादा समय हो चुका है और ये कहते-कहते ही वह अदालत के अंदर रो पड़ीं। सुनवाई टल जाने के बाद नाराज मां अदालत के बाहर प्रदर्शन कर रही हैं और हमें न्याय चाहिए के नारे लगा रही हैं। उनके साथ महिला अधिकारों के लिए कार्य करने वाली योगिता भयाना भी हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here