एक्सक्लूसिव: इस उत्तराखंडी ने दिल्ली में रचा इतिहास, पांचवीं बार बने विधायक

देहरादून: दिल्ली की करावाल नगर सीट एक ऐसी सीट है, जिस सीट पर भाजपा ने पिछले 22 सालों से एक ही चेहरे को हर बार अपना चेहरा बनाया। भाजपा के खांटी नेता ने भी अपनी पार्टी को निराश नहीं किया। जब भी वो मैदान में उतरे उनको लगभगर हर बार ही जीत हासिल हुई। ये भाजपा नेता उत्तराखंड मूल के मोहन सिंह बिष्ट हैं, जिनसे पार पाने में आम आदमी पार्टी की 68 सीट वाली आंधी तो सफल रही, लेकिन इस बार की 62 सीट वाली आंधी फेल साबित हुई। मोहन सिंह बिष्ट दिल्ली की करावल नगर सीट से एक-दो नहीं, बल्कि पूरे पांच बार विधायक चुने जा चुके हैं। मोहन सिंह बिष्ट करावल नगर सीट से पिछले 1998 से 2015 तक वही भाजपा का चेहरा रहे।

मूल रूप से अल्मोड़ी के रहने वाले और फुटबाल, कबड्डी के शौकीन मोहन सिंह बिष्ट को 2015 के चुनाव में कपिल मिश्रा के सामने हार का सामना करना पड़ा था, लेकिन इस बार ऐसा नहीं हो सका। भाजपा ने 62 साल के मोहन सिंह बिष्ट पर फिर भरोसा किया और उनको इस चुनाव में भी करावल नगर सीट से अपना चेहरा बनाया।

मोहन सिंह बिष्ट ने 1998 में पहली बार चुनाव लड़ा था। पहले चुनाव में उन्होंने कांग्रेस के प्रत्याशी जिले सिंह को तीन हजार वोटों से मात दी थी। इसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा। 2008 मंे निर्दलीय को हराया, 2013 में आपक के कपिल मिश्रा को हराया और इस साल उन्हांने आप के केंडिटेड को करारी मात दी। मोहन सिंह बिष्ट दिल्ली भाजपा के उपाध्यक्ष भी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here