NH 74 घोटाला मामला- तो हाई-वे-अथॉरिटी को बचाने की कोशिश हो रही है !

harish-rawat
फाइल फोटो

देहरादून- केंद्रीय मंत्री के मीडिया में लीक खत के मजमून ने जहां जीरो टॉलरेंस की बात करने वाले सूबे के सीएम त्रिवेंद्र रावत को असहज कर दिया है, वहीं विपक्ष को उंगलियां उठान का मौका दे दिया है।

अब देहरादून से दिल्ली तक अपनी चमक बिखेर रहे NH 74 मुआवजा घोटाले मामले में सूबे के पूर्व सीएम हरीश रावत ने भी इल्जाम लगाया है। रावत ने कहा कि मौजूदा वक्त में हाईवे अथॉरिटी को बचाने की कोशिश हो रही है।

रावत ने कहा कि, जब किसी को जांच की आंच से बचाना ही है तो फिर जांच किस बात की होनी है। वहीं पूर्व सीएम रावत ने कहा कि  NH 74 मुआवजा घोटाले मामले में हमारी सरकार ने एसआईटी गठित की थी। जबकि मामले को सीबीआई सौंपने की पैरवी भी हमने ही की थी।

देहरादून में मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए हरीश रावत ने कहा कि मै किसी की मौरिट पर सवाल नहीं उठा रहा लेकिन जो महसूस हो रहा है उसी का जिक्र कर रहा हूं

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here