राष्ट्रपति और PM मोदी के लिए खरीदे गए 8458 करोड़ के बोइंग विमान, ये है खासियत

boieng 777

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए भारत सरकार ने दुनिया के सबसे बेहतरीन और उन्नत बोइंग विमानों को मंगाया है। ये अगले हफ्ते दिल्ली पहुंच जाएंगे। इन्हें एअर इंडिया वन के नाम से जाना जाएगा। ये बोइंग श्रेणी का VVIP विमान है।

भारत सरकार ने दो चौड़ी बॉडी वाले खासतौर से डिजाइन किये गये बोइंग 777-300 ER विमान ऑर्डर किये हैं।  इनमें से एक पीएम मोदी के लिए तो दूसरा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के लिए होगा।

अमेरिकी राष्ट्रपति द्वारा इस्तेमाल होने वाले ‘एयरफोर्स वन’ विमान की तर्ज पर भारत के लिए वीवीआईपी एयरक्राफ्ट ‘एअर इंडिया वन’ तैयार किया गया है। इन दोनों विमानों की अमेरिका में खास साज-सज्जा की जा रही है। इनके आने के बाद एअर इंडिया वीवीआईपी बेड़े से 25 साल पुराने बोइंग 747 विमान हटा लिये जाएंगे। ये दोनों विमान भारतीय वायुसेना के पायलटों द्वारा चलाये जाएंगे।

एअर इंडिया, इंडियन एयरफोर्स, और सरकार के कुछ अधिकारियों के साथ सुरक्षाकर्मियों का एक दल वीवीआईपी एयरक्राफ्ट ‘एअर इंडिया वन’ को भारत लाने के लिए अमेरिका गया है।

Boeing 777
बोइंग 777 के भीतर का एक दृश्य। PHOTO – .boeing.com

विमान की खासियत

-एअर इंडिया वन एडवांस और सिक्योर कम्युनिकेशन सिस्टम से लैस है। ये विमान एक तरह से पूर्ण हवाई कमान केंद्र की तरह काम करते हैं जिनके अत्याधुनिक ऑडियो-वीडियो संचार को टैप या हैक नहीं किया जा सकता।

-दोनों विमान एक तरह से मजबूत हवाई किले की तरह हैं. इनकी खरीद पर करीब 8,458 करोड़ रुपये की लागत आएगी।

-इस विमान का अपना मिसाइल डिफेंस सिस्टम, सेल्फ प्रोटेक्शन सूट है जो दुश्मन देश के रडार फ्रेंक्वेंसी को जाम कर सकते हैं।

-इस विमान के अंदर एक कॉन्फ्रेंस रूम, वीवीआईपी यात्रियों के लिए एक ​केबिन, एक मेडिकल सेंटर और साथ ही साथ अन्य गणमान्य व्यक्तियों, स्टाफ के लिए सीटें होंगी।

-इस विमान पर एअर इंडिया वन (जिसे AI-1 or AICOO1 भी कहा जाता है) का खास तरह का साइन होगा। इस साइन का मतलब है कि विमान में राष्ट्रपति या प्रधानमंत्री सवार हैं।

-इस विमान पर अशोक चक्र के साथ भारत और इंडिया भी ​लिखा होगा।

-यह विमान एक बार ईंधन भरने के बाद लगातार 17 घंटे तक उड़ान भर सकेगा। अभी वीवीआई बेड़े में जो विमान हैं, वे सिर्फ 10 घंटे तक ही लगातार उड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here