SSP खंडूरी अलर्ट, गनर के पारिवारिक, निजी दुख-तकलीफों का लिया जाएगा फीडबैक

नैनीताल : हरियाणा के गुरुग्राम में गनर द्वारा एडीजे की पत्नी व बेटे को गोली मारने की घटना ने कई लोगों की नींद उड़ा दी है. और इसके बाद कई राज्य का पुलिस महकमा भी अलर्ट हो गया है।

सुरक्षा में तैनात गनर की काउंसलिंग करने के निर्देश दिए

जी हां वहीं नैनीताल एसएसपी ने सीओ और एसएचओ को माननीयों की सुरक्षा में तैनात गनर की काउंसलिंग करने के निर्देश दिए हैं। साथह ही काउंसलिंग के दौरान उनकी पारिवारिक, निजी दिक्कतों के साथ ही दु:ख-तकलीफ के बारे में फीडबैक लिया जाएगा। साथ ही छोटे मोटे विवादों के बारे में भी पुलिस जानकारी जुटाएगी।

काउंसलिंग की जिम्मेदारी क्षेत्राधिकारी व निरीक्षक को सौंपी गई

एसएसपी जन्मेजय खंडूड़ी ने बताया कि पूरे जिले में पुलिस महकमे की ओर से मुहैया कराए गए सुरक्षा कर्मियों की काउंसलिंग करने के दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। काउंसलिंग की जिम्मेदारी क्षेत्राधिकारी व निरीक्षक को सौंपी गई है। जिले में महानुभावों को ऐसे कुल 34 गनर मुहैया कराए गए हैं।

इन-इन को मिले हैं गनर सुरक्षा

हाई कोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश राजीव शर्मा, वरिष्ठ न्यायाधीश न्यायमूर्ति वीके बिष्टï, न्यायाधीश सुधांशु धूलिया, न्यायमूर्ति आलोक सिंह, न्यायमूर्ति लोकपाल सिंह, न्यायमूर्ति मनोज तिवारी, न्यायमूर्ति लोकपाल सिंह, न्यायमूर्ति शरद कुमार शर्मा, एडवोकेट जनरल एसएल बाबुलकर, रजिस्ट्रार जनरल प्रदीप पंत, राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के सदस्य सचिव प्रशांत जोशी, जिला जज नरेंद्र दत्त, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट अरविंद नाथ त्रिपाठी, अधिवक्ता अंजलि भार्गव, कमिश्नर राजीव रौतेला, डीएम विनोद कुमार सुमन, सीडीओ विनीत कुमार, जिला पंचायत अध्यक्ष सुमित्रा प्रसाद, नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश, विधायक बंधीधर भगत, विधायक दीवान सिंह बिष्टï, विधायक नवीन दुम्का, विधायक संजीव आर्या, विधायक राम सिंह कैड़ा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here