जबरन करा रहे थे शादी, 15 साल की लड़की की हिम्मत से ऐसे रुका बाल विवाह

रामनगर : बाल विवाह कानून अपराध है। बावजूद रामनगर में लोग 15 साल की किशोरी की शादी जबरन कराना चाह रहे थे। तेलीपुरा में एक किशोरी ने 112 पर पुलिस को फोन कर पूरे मामले की शिकायत कर दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने 18 साल के दूल्हे समेत अन्य लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया। किशोरी को नारी निकेतन हल्द्वानी भेजा गया है।

किशोरी ने पुलिस को बताया कि उसके पिता उसकी जबरन शादी करा रहे हैं। सूचना पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने एक कमरे से किशोरी को बरामद किया और पिता सहित दूल्हे को हिरासत में लेकर कोतवाली ले आई। शादी गुपचुप कराई जा रही थी। किशोरी ने बताया कि वह एक सप्ताह पहले ही बदायूं अपने मौसी के यहां से आई थी। उसके पिता तेलीपुरा में एक गोदाम में गार्ड हैं। मां और भाई की पहले ही मौत हो चुकी है।

नाबालिग होने के चलते वह शादी नहीं करना चाहती है। इस पर पिता उसके साथ मारपीट करते हैं और बिना उसकी मंजूरी के शादी करा रहे हैं। एसएसआई जयपाल सिंह चैहान ने बताया कि किशोरी के परिवार में कोई ऐसा व्यक्ति नहीं है जो उसकी देखरेख कर सके। किशोरी को हल्द्वानी नारी निकेतन भेज दिया गया है और किशोरी के पिता और दूल्हे का पुलिस एक्ट में चालान कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here