कई दिनों से ‘लापता’ बाघिन मिली, मोतीचूर रेंज से घूमते हुए कांसरो तक पहुंची

प्रतीकात्मक

राजाजी नेशनल पार्क से एक महीने से ‘लापता’ चल रही बाघिन आखिरकार वन विभाग के अधिकारियों को मिल गई है। इस बाघिन को पिछले कई दिनों से नहीं देखा गया था इसके चलते वन विभाग के अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ था।

दरअसल राजाजी पार्क में लाई गई एक बाघिन लगभग एक महीने से नहीं दिख रही थी। पार्क के वन्य जीवों पर नजर रखने वाले वन विभाग के कर्मचारी भी बाघिन को तलाश नहीं पा रहे थे। इस बाघिन को तलाश करने के लिए टीमों का गठन किया गया था। कुल चार सर्च टीमें लगाईं गईं थीं। इसके साथ ही कैमरा ट्रैप्स पर भी लगातार नजर रखी जा रही थी।

सोमवार को ये बाघिन एक कैमरे में ट्रैप हो गई। इसके बाद पार्क प्रशासन की सांस में सांस आई है। मंगलवार सुबह जब कैमरों की जांच हुई तो बाघिन की लोकेशन मिल गई। बताया जा रहा है कि बाघिन राजाजी पार्क की ही पश्चिमी सीमा के आसपास चली गई।

आमतौर पर बाघ अपनी टेरिटरी के 25 स्कावर किलोमीटर तक में घूमते हैं लेकिन कभी कभार इससे आगे चले जाते हैं। इस बार भी ऐसा ही हुआ है। ये बाघिन अपने इलाके मोतीचूर से घूमते हुए कांसरों तक के पचास किलोमीटर के रेंज में चली गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here