बिना गारंटी मिलेगा लोन, ऐसे लें इस योजना का लाभ

 

नई दील्ली : कोरोना काल में सड़क किनारे रेहड़ी-पटरी पर सामान बेचकर रोज रोटी कमाने वाले दुकानदारों की आजीविका पर काफी असर पड़ा है. ऐसे में सरकार ने इन ठेले वाले लोगों को दोबारा से अपने कारोबार को खड़ा करने के लिए लोन देने की योजना बनाई। इसके तहत अब तक कई लोगों को देशभर में लोन दिया जा चूका है. यह लोन किफायती दरों पर मिल रहा है. सरकार की इस लोन स्कीम का नाम ‘पीएम स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि’ (पीएम स्वनिधि) रखा गया है.

बिना गारंटी के मिलता है लोन

सड़क किनारे ठेले लगाकर सामान बेचने वाले ऐसे दुकानदारों को इस स्कीम से लाभ मिले और वो दोबारा अपने छोटे कारोबार को पटरी पर ला सकें. सस्ती दरों पर मिलने वाले इस सरकारी लोन की स्कीम को जून 2020 में लॉन्च किया गया. इसकी विशेषता है कि इसके तहत बांटे गए लोन के लिए किसी तरह की गारंटी नहीं ली जाती है.

10 हजार रुपये तक का कर्ज

इस स्कीम के तहत रेहड़ी-पटरी वाले दुकानदारों को 10 हजार रुपये तक का कर्ज दिया जाता है. इससे उन्हें अपने कारोबार को फिर से शुरू करने में मदद मिलती है. इसके तहत ठेले वाले दुकानदार, नाई की दुकान, मोची, पान की दुकान, लॉन्ड्री सेवाओं को समाहित किया गया है. इसमें ठेले पर सब्जी वाले, फल वाले, चाय, पकौड़े, ब्रेड, अंडे, कपड़े, दस्तकारी उत्पाद और किताबें/कॉपियां बेचने वाले दुकानदार शामिल हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here