पौड़ी गढ़वाल के लाल को गाजियाबाद की कमान, पूरा परिवार है होनहार..पढ़िए

देहरादून : एक बार फिर से एक उत्तराखंडी को उसके हुनर के बदौलत देश में क्राइम के लिए प्रसिद्ध राज्य यूपी के जिले की बागडोर दी गई है। जी हां हम बात कर रहे हैं यूपी के गाजियाबाद जिले की जिसकी कमान उत्तराखंड के लाल कलानिधि नैथानी को दी गई है जो की क्राइम कंट्रोलर,कड़क अनुशासन के लिए मशहूर हैं कि लखनऊ के एसएसपी भी रह चुके हैं। बात करें इनके परिवार की तो पूरा परिवार अपने हुनर के बदौलत कामयाबी के झंडे गाड़ जुका है।

2010 बैच के आईपीएस अफसर

आपको बता दें कि गाजियाबाद के एसएसपी का कार्यभार देने के बाद कलानिधि नैथानी ने शुक्रवार सुबह कमांड कार्यालय पहुंच कर अपना कार्यभार संभाला जो कि 36 साल के हैं औऱ 2010 बैच के आईपीएस अफसर हैं। उन्हें निवर्तमान एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने प्रभार सौंपा। सुधीर कुमार सिंह का गुरुवार को ही सेनानायक पीएसी आगरा के लिए ट्रांसफर हुआ है।

पौड़ी गढ़वाल के रहने वाले हैं नैथानी, मां को मिल चुका है राष्ट्रपति पुरुस्कार

आपको बता दें कि तेजतर्रार औऱ अपने कड़क अनुशासन औऱ अपराध-अपराधी पर चोट देने वाले गाजियाबाद के नए एसएसपी कलानिधि नैथानी मूल रूप से पौड़ी गढ़वाल के रहने वाले हैं। वो कानून-व्यवस्था कायम रखने में माहिर तो हैं ही साथ ही टेक्नोफ्रेंडली भी हैं। उन्होंने हाईस्कूल की पढ़ाई पौड़ी से, इंटरमीडिएट आर्मी स्कूल मथुरा से और इलेक्ट्रॉनिक एंड कम्युनिकेशन बीटेक की पढ़ाई  पंतनगर से की है। उन्होंने पुलिस प्रबंधन में उस्मानिया विश्वविद्यालय, हैदराबाद से एमबीए भी किया है। उनके परिवार में मां देहरादून में प्रधानाचार्या हैं जिन्हें राष्ट्रपति पुरस्कार भी मिला है तो वहीं पिता सेवानिवृत प्रोफेसर हैं। उनकी पत्नी आयकर विभाग दिल्ली में संयुक्त आयुक्त के पद पर कार्यरत हैं और बड़े भाई थल सेना में कर्नल हैं।

बता दें कि जिले के नए एसएसपी ने इससे पहले भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर में वैज्ञानिक अधिकारी, भारत सरकार के सी-डॉट (सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ टेलीमैटिक्स) बंगलुरु एवं दिल्ली में पांच साल तक रिसर्च इंजीनियर रह चुके हैं। इसके अलावा वह एसएसपी लखनऊ, एसएसपी बरेली, एसपी पीलीभीत, एसपी कन्नौज, एसपी फतेहपुर, एसपी मीरजापुर, कमांडेंट 38 पीएसी अलीगढ़, कमांडेंट 9 पीएसी मुरादाबाद, पुलिस अधीक्षक पुलिस मुख्यालय तथा एएसपी कुंभ मेला और एएसपी सहारनपुर भी रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here