दिल्ली में होगा कोटद्वार के झगड़े का फैसला, गढ़वाल कमीश्नर दिल्ली तलब

पौड़ी : कोटद्वार की एक पंचायत में पिछले दिनों एक युवक पर जातिसूचक शब्दों को प्रयोग का मामला दिल्ली में राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग में पहुंच गया है। अनुसूचित जाति के युवक को अभद्र जातिसूचक टिप्पणी करने के एक मामले में हुई कार्रवाई की जानकारी देने के लिए गढ़वाल कमिश्नर को दिल्ली तलब किया गया है।

कोटद्वार के रिखेड़ा पंचायत में हुए एक विवाद के दौरान एक युवक को आपत्तिजनक शब्दों से संबोधित किया गया और उसके साथ मारपीट की गई। 18 सितंबर को गढ़वाल कमीश्नर को दिल्ली में पेश होना है। रिखेड़ा गांव के वीरेंद्र  ने राज्यपाल और अनुसूचित जाति आयोग को पत्र लिखकर शिकायत की थी कि उसके साथ अभद्र व्यवहार किया गया है। वीरेंद्र ने आरोप लगाया है कि गांव के प्रधान के कराए जा रहे कार्यों में अनियमितता की जा रही थी। उसने इसका विरोध किया। इस विरोध के कारण एक दिन उसके घर से उसे उठा लिया गया।

अपनी शिकायत में उसने कहा है कि उसे कई दिनों तक हिरासत में रखा गया, इस दौरान उसके साथ मारपीट की गई और उसके खिलाफ आपत्तिजनक जातिसूचक शब्दों का प्रयोग किया गया। वीरेंद्र सिंह ने इस मामले में कुछ सरकारी अधिकारियों के भी शामिल होने का आरोप लगाया है और इस मामले में उनकी भूमिका की जांच की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here