कोटद्वार के स्टूडेंट ने “मोदी सर” से पूछा सवाल, PM ने दिया ये जवाब

कोटद्वार: पीएम मोदी आज देशभर के बच्चों को परीक्षा पर चर्चा कार्यक्रम में रू-ब-रू हो रहे हैं। उनसे देशभर के स्टूडेंट आनलाइन भी सवाल पूछ रहे हैं। पीएम मोदी की छात्रों के साथ ही इस चर्चा को उत्तराखंड के कई स्कूलों में दिखा जा रहा है। 11 छात्र दिल्ली में सीधे पीएम मोदी से संवाद भी कर रहे हैं। वहीं, कोटद्वार के एक स्टूडेंट ने पीएम मोदी से सवाल किया, जिसका उन्होंने शानदार जवाब दिया और अभिभावकों को भी आगाह किया।

कोटद्वार के छात्र मयंक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछा कि क्या जीवन में सफलता का मापदंड परीक्षा में प्राप्त अंक ही हैं? इस पर पीएम मोदी ने कहा कि परीक्षा में अंक को महत्वपूर्ण पड़ाव मानना चाहिए, लेकिन इसे ही सब कुछ नहीं मानना चाहिए। उन्होंने अभिभावकों से निवेदन किया कि बच्चों को ये नहीं तो कुछ नहीं का गुण न सिखाएं।

उन्होंने कहा कि किसी विषय में सफलता नहीं पाई तो जीवन में कुछ नहीं पाया, ऐसी सोच न बनाएं। उन पर किसी भी टारगेट को पाने के लिए दबाव न बनाएं। बच्चों को उनकी पसंद के हिसाब से जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करें। देश में बहुत सारे फील्ड हैं। उनमें आप अच्छा प्रयोग कर सकते हैं। जीवन में परीक्षा का महत्व है, लेकिन परीक्षा ही जिंदगी है ऐसा नहीं समझना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here