Johnson Baby पाउडर पर पूरी दुनिया में लग सकता है बैन, करोड़ों डॉलर मुआवजा दे चुकी है कंपनी,जानिए वजह

जिस घर में छोटे बच्चे होते हैं या बच्चे का जन्म होता है, उस घर में अक्सर आपने जॉनसन बेबी पाउडर देखा होगा। अपनी बेस्ट क्वालिटी के लिए दुनिया भर में मशहूर हुए ब्रैंड जॉनसन और जॉनसन की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। अरबो डॉलर मुआवजा देने के बाद भी मुश्किल बढ़ती जा रही है. कंपनी की इज्जत की तो धज्जियां उडी ही साथ ही अब कंपनी के बंद होने की कगार पर आ गई है। जी हां इस पर निवेशक बड़ा फैसला ले सकते हैं।

आपको बता दें कि फार्मा कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन का बेबी पाउडर घर घर में पॉपुलर था. लेकिन इससे कैंसर होने की बात साबित होने के बाद अब इसका बेबी पाउडर पूरी दुनिया में प्रतिबंधित हो सकता है. द गार्जियन में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार ब्रिटेन में कंपनी के शेयरधारकों ने एकजुट होकर इस पाउडर की बिक्री पर ग्लोबल बैन का प्रस्ताव तैयार किया है. इस पाउडर की वजह से महिलाओं और बच्चों को कैंसर होने के करीब 34 हजार से ज्यादा केस Johnson & Johnson पर चल रहे हैं.

अमेरिका में इस पाउडर में एस्बेस्टस का एक प्रकार क्त्रिस्सोटाइल फाइबर मिला था, जिसके बाद इससे कैंसर की आशंका जताई गई यह तत्व कैंसरकारी माना जाता है. हजारों महिलाओं ने उसके पाउडर से बच्चेदानी का कैंसर होने के आरोप में कंपनी पर केस किए. फिलहाल ब्रिटेन समेत दुनिया के कई देशों में इसकी सेल बदस्तूर जारी है.

इस बीच ब्रिटेन में एक निवेश प्लेटफॉर्म ट्यूलिपशेयर ने कंपनी के शेयरधारकों की ओर से सेल रोकने का प्रस्ताव तैयार हुआ है. शेयरधारक अपने शेयरों को साथ में जमा कर प्रस्ताव के लिए जरूरी शेयर संख्या जुटा रहे हैं. वहीं अमेरिकी स्टॉक मार्केट नियामक एजेंसी SEC को भी यह प्रस्ताव भेजा गया है. अप्रैल में कंपनी की सालाना बैठक है, जहां यह प्रस्ताव लाने का प्रयास हो रहा है.

अमेरिका की एक अदालत ने कैंसर से पीड़ित महिलाओं की 22 याचिकाओं में जॉनसन एंड जॉनसन के खिलाफ फैसला सुनाया था. उस आदेश के बाद कंपनी को 200 करोड़ डॉलर यानी करीब 15 हजार करोड़ रुपये का भुगतान मुआवजे और मुकदमे के खर्च के नाम पर करना पड़ा था. वहीं कनाडा की न्यूज़ वेबसाइट नेशनल पोस्ट में प्रकाशित खबर के मुताबिक इस पाउडर की सेल अमेरिका और कनाडा में रोक लगा दी गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here