हाथ पर मेहंदी से लिखा जितेंद्र मेरी जान…और फांसी लगाकर कर ली आत्महत्या

कहते हैं प्यार में सब जायज है। प्यार में प्रेमी प्रेमिका एक दूसरे के लिए जान तक दे देते हैं ऐसा ही कुछ किया औरैया में एक महिला ने। जी हां प्रेम कहानी थोड़ी अलग है। दरअसल एक विधवा महिला ने निलंबित सिपाही की मौत के बाद फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। साथ ही सुसाइड नोट भी लिखा।

आपको बता दें कि दिबियापुर निवासी विधवा महिला औरैया के ब्रह्मनगर में किराये पर रहती थी। अक्टूबर में महिला ने एसपी को तहरीर दी थी कि कोतवाली में तैनात जितेंद्र ने उससे शादी करने का झांसा दिया और शारीरिक संबंध बनाए। महिला ने एसपी को कहा कि जब उसने शादी की बात कही तो तो सिपाही ने इन्कार कर दिया। तहरीर मिलते ही एसपी ने जांच कराकर सिपाही को लाइन हाजिर कर दिया था। पूरे मामले की जांच चल ही रही थी कि बीते 4 नवंबर को जितेंद्र सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल हो गया औऱ उसकी कानपुर के हैलट अस्पताल में मौत हो गई।

प्रेमी की जुदाई प्रेमिका सह नहीं पाई और महिला ने बुधवार को कमरे में फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया। दोपहर में उसी मकान में रह रहे लोग जब छत पर गए तो खिड़की से शव लटकते देखा और पुलिस को सूचना दी।मौके पर पुलिस के आला अधिकारी पहुंचे तो मौके से सुसाइड नोट मिला। पुलिस कर्मियों की नजर महिला के हाथ पर पड़ी तो देखा कि हाथ पर मेहंदी से जितेंद्र मेरी जान..महिला ने मेहंदी से अपना और सिपाही दोनों का नाम लिखा था।फोरेंसिक टीम जांच में जुटी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here