उत्तरकाशी को ये किसकी नजर लगी , दो की मौत और 36 से ज्यादा लोग आए इसकी चपेट में

उत्तरकाशी- तीन दर्जन से ज्यादा ग्रामीणों के बुखार की चपेट में होने से गांव में दहशत है। डीएम डा. आशीष चौहान ने रविवार को गांव पहुंचकर हालात का जायजा लिया। चिकित्सकों की टीम ने गांव में डेरा डाल दिया है।उडारीगाड़ गांव में बीते कुछ दिन से मौसमी बुखार की शिकायतें बढ़ती जा रही हैं। बीते शुक्रवार को बुखार से पीड़ित मटू देवी (65) पत्नी चिंदरिया सिंह की मौत हो गई।

करीब तीन दर्जन ग्रामीण खांसी, बुखार और उल्टी से पीड़ित

रविवार दोपहर को वायरल पीड़ित रोहित (13) पुत्र उत्तम सिंह ने जिला अस्पताल में दम तोड़ दिया। गांव में अब भी करीब तीन दर्जन ग्रामीण खांसी, बुखार और उल्टी से पीड़ित हैं। वायरल के प्रकोप की सूचना मिलते ही सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चिन्यालीसौड़ से डाक्टरों की टीम ने दवाओं के साथ गांव पहुंचकर डेरा डाल दिया है।

डीएम आशीष चौहान पहुंचे उडारीगाड़ गांव

मामले की गंभीरता को देखते हुए डीएम डा. आशीष चौहान भी रविवार को उडारीगाड़ गांव पहुंचे। यहां उन्होंने मृतकों के परिजनों से मिलकर उन्हें ढांढस बंधाया। साथ ही बीमारों का हाल जाना और चिकित्सकों को उपचार के निर्देश दिए।

गांव में डेरा डाले चिकित्सकों की टीम के प्रभारी डा. जितेंद्र भंडारी ने बताया कि ग्रामीण वायरल की चपेट में हैं। गांव में ही इनका उपचार किया जा रहा है। गंभीर रोगियों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चिन्यालीसौड़ ले जाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जल्द ही रोग पर नियंत्रण पा लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here