इंदिरा हृदयेश का बड़ा बयान : बदहाल हो गई स्वास्थ्य सेवाएं, गद्दी छोड़ें CM

हल्द्वानी : कोरोना काल में राज्य में बिगड़ती स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने हल्द्वानी के बुध पार्क में एक दिवसीय उपवास रखकर धरना प्रदर्शन किया. इंदिरा ने कहा की राज्य में बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था को संभालने का जिम्मा स्वयं मुख्यमंत्री के पास है. स्वास्थ्य विभाग मुख्यमंत्री खुद देख रहे हैं. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अगर स्वास्थ्य महकमा नहीं संभाल पा रहे हैं, तो गद्दी छोड़ कर जाएं. नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि सरकार की नाकामी का खामियाजा आम गरीब लोगों को अपनी जान देकर भुगतना पड़ रहा है.

कुमाऊँ का सबसे बड़ा सुशीला तिवारी अस्पताल जिसे पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी ने बेहतर स्वास्थ्य के सपने के साथ बनाया था, आज लोग उस अस्पताल में जाने से लोग डर रहे हैं. हालात इतने बदतर हैं कि अस्पतालों में कोरोना संक्रमण के इस दौर में मरीजों को उचित उपचार तो दूर उनके साथ उचित व्यवहार तक नहीं हो रहा है. इंदिरा हृदयेश ने कहा कि यह राज्य सरकार प्रदेश की जनता को बेहतर स्वास्थ्य देने में पूरी तरह से विफल और नाकाम रही है, लिहाजा आज सांकेतिक रूप से कांग्रेस ने यह प्रदर्शन किया है आगे और उग्र आंदोलन किए जाएंगे।

वहीं, कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन कि भाजपा में वापसी के बाद जुलूस और हथियारों के प्रदर्शन पर नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा की भाजपा के पास नेताओं की भारी कमी हो गई है. इसलिए चैंपियन जैसे विधायक को दोबारा लेना पड़ रहा है. कांग्रेस के समय भी उन्होंने गोलियां चलाई हैं. उनकी गोली से कई बार लोग बचे हैं. भाजपा में आने के बाद भी उनका गोली चलाना जारी है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं पर तो जनहित के मुद्दों पर जुलूस निकालने पर मुकदमा किये गए हैं, तो क्या सरकार कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन पर भी कार्रवाई करेगी ? लेकिन, कांग्रेस इस मुद्दे को आगामी विधानसभा सत्र में न सिर्फ, उठाएगी बल्कि प्रदर्शन भी करेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here