ज. बिपिन रावत के नाम पर होगा उत्तराखंड में बन रहे सैन्यधाम के द्वार का नाम, राजनाथ सिंह करेंगे शिलान्यास

 

देहरादून : उत्तराखंड की भूमि वीरों की भूमि है। यहां हर घर और परिवार से कोई ना कोई सेना में जरुर है। अब तक कई उत्तराखंड के बहादुर लालों ने देश की रक्षा के लिए अपने प्राणों की आहूति दी और इसी त्याग औऱ बलिदान को देखते हुए पीएम मोदी ने उत्तराखंड में पांचवा धाम बनाने की घोषणा की थी जो की आज पूरी होने जा रही है।

जी हां बता दें कि उत्तराखंड में पांचवें धाम के रूप में बनने वाले सैन्यधाम के शिलान्यास के लिए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज देहरादून आ रहे हैं। इस दौरान शहीद सम्मान यात्रा का भी समापन होगा। रक्षा मंत्री गुनियाल गांव में सैन्यधाम के भूमि पूजन और शिलान्यास कार्यक्रम में शामिल होने के साथ ही जनसभा को भी संबोधित करेंगे। कार्यक्रम में 204 शहीदों के स्वजन और वीर नारियों को सम्मानित किया जाएगा।

वहीं आपको बता दें कि सैन्यधाम के मुख्य द्वार का नाम सीडीएस स्व. जनरल बिपिन रावत के नाम पर रखने का निर्णय लिया गया है। मंगलवार को विधानसभा में पत्रकारों से बातचीत में सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने इसकी जानकारी दी और बताया कि सैन्यधाम के लिए प्रदेश के 1734 शहीद सैनिकों के आंगन से कलश में मिट्टी लाई गई है। इसके लिए 15 नवंबर को गढ़वाल मंडल के सबाड गांव और कुमाऊ मंडल के मुनाकोट गांव से शहीद सम्मान यात्रा शुरू की गई थी। बुधवार को इस यात्रा का समापन सैन्यधाम में होगा। शहीदों के आंगन से लाई गई मिट्टी को एक बड़े कलश में रखा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here