हौसले अगर बुलंद हो तो नामुमकिन कुछ भी नहीं…पढ़िए नामिता की कामयाबी की कहानी

रुड़की- कहते है अगर हौसले बुलंद हो तो नामुमकिन कुछ भी नहीं। दृढ़ निश्चय एक बार कर लिया जाए तो कामियाबी कदम चूमती है। ऐसा ही बुंलदियों के शिखर को हासिल कर अपने परिवार औऱ प्रदेश का ही नहीं बल्कि पूरे देश का नाम रोशन कर दिखाया है रुड़की में रहनी वाली नमिता ने। गेट(ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट एन इंजीनियरिंग) परीक्षा एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा है। जिसमे रुड़की की नामिता ने पूरे देश में टॉप किया है।

आपको बता दें कि रुड़की के एक छोटे से परिवार में रहने वाली नमिता ने अपने माता पिता का ही नहीं बल्कि अपने शहर का नाम पूरे देश मे रोशन किया। देश भर में हुई फरवरी माह में गेट की होनी वाली परीक्षा का नतीजा आया। जिसमें रुड़की की रहने वाली नमिता ने परीक्षा में देश भर में टॉप कर प्रथम स्थान प्राप्त किया..जिसके बाद नमिता की खुशी का कोई ठिकाना न रहा. नमिता ने इस खुशी का जश्न अपने परिजनों के साथ मिलकर मनाया.

नमिता का नाम गेट परीक्षा में प्रथम आने की खबर शहर में आग की तरह फैल गई। जिसके बाद से राजनीतिक दलों से लेकर आम आदमी भी नमिता और उसके परिजनों को बधाई देने के लिए नामिता के घर जुटने लगे।

एक साधारण परिवार में जन्मी नमिता के पिता एक छोटी सी टीवी रिपेयरिंग की दुकान चलाते हैं। नामित के माता-पिता ने बताया कि उन्होंने कभी भी उसकी पढ़ाई के लिए पैसे की कमी नहीं आने दी.. नामिता ने भी अपनी कोचिंग करने के साथ-साथ प्राइवेट जॉब करके अपनी पढ़ाई जारी रखीं और साथ-साथ दिल्ली के एक संस्थान में अपनी गेट की कोचिंग भी जारी रखी.. नामिता के परिवार में उनकी एक बड़ी बहन है और एक छोटा भाई है वो दोनों भी पढ़ाई में नामिता के ही तरह होशियार है। वहीं अपने भविष्य के बारे में नामिता ने बताया कि अभी वो अपनी पढ़ाई जारी रखेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here