उत्तराखंड: हिस्ट्रीशीटर की गोली मारकर हत्या, खुद ही थाने पहुंच गए बदमाश

रुड़की: गोल भट्टा मोहल्ले में आपसी रंजिश को लेकर तीन लोगों ने घर के पास ही एक दुकान के बाहर हिस्ट्रीशीटर को गोली मारकर हत्या कर दी, जिसके बाद हत्या से आक्रोशित परिजनों ने सिविल अस्पताल में जमकर हंगामा किया। भीड़ ने वहां पर आए एक युवक को जमकर पीटा, जिसके बाद पुलिस ने किसी तरह युवक को आक्रोशित भीड़ से बचाया।

रुड़की की सिविल लाइन कोतवाली क्षेत्र के गोल भट्टा मोहल्ले में घर के पास ही एक दुकान के बाहर हिस्ट्रीशीटर को तीन युवकों ने गोली मार दी। हत्या के बाद तीनों युवक खुद ही कोतवाली पहुंच गए और पुलिस को पूरे मामले की जानकारी दी। वहीं, हत्या से आक्रोशित परिजनों ने सिविल अस्पताल में जमकर हंगामा किया। भीड़ ने वहां पर आए एक युवक को जमकर पीटा, जिसके बाद पुलिस ने किसी तरह से युवक को बचाया।

पुलिस के मुताबिक मनीष उर्फ बाबू सिविल लाइन कोतवाली का हिस्ट्रीशीटर है। मोहल्ले के ही दो युवकों से इसका विवाद चल रहा है। गुरुवार की रात करीब 9ः 30 बजे वह घर के पास ही एक दुकान के बाहर खड़ा हुआ था। इसी बीच पड़ोस में रहने वाले दोनों युवक वहां पर आए, जिनके साथ उनका मोहनपुरा निवासी साथी भी था। आरोप है कि इसी दौरान युवकांे ने मनीष उर्फ बाबू को गोली मार दी, गोली लगते ही मनीष उर्फ बाबू नीचे गिर पड़ा।

गोली की आवाज सुनकर मौके पर अफरा-तफरी मच गई। घटना के बाद आरोपित सीधे सिविल लाइन कोतवाली पहुंच गए और पुलिस को पूरे मामले से अवगत कराया। पुलिस ने इन सभी को हिरासत में ले लिया। वहीं, घटना की जानकारी मिलते ही परिजन मौके पर पहुंचे। परिजनों ने जमकर हंगामा किया। पिुलिस भी मौके पर पहुंचकर किसी तरह मामला शांत कराया।

वहीं, मनीष उर्फ बाबू सफाई नायक हत्याकांड के मामले में जेल जा चुका है। 25 जनवरी 2016 को रुड़की नगर निगम के सफाई नायक बसंत की रामनगर में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में पुलिस ने मनीष उर्फ बाबू को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। हरिद्वार एसएसपी योगेंद्र सिंह रावत ने बताया कि मृतक मनीष उर्फ बाबू सिविल लाइन कोतवाली का हिस्ट्रीशीटर था। पुलिस घटना के हर पहलू की जांच कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here