उत्तराखंड ब्रेकिंग : थाने में हाई प्रोफाइल हंगामा, SP समेत पुलिस अधिकारियों- कर्मचारियों के छूटे पसीने…यह है मामला

उधम सिंह नगर : गदरपुर में आज सैकड़ों लोगों ने थाना परिसर को घेर लिया और धरने पर बैठकर दरअसल सारा मामला नगर पालिका अध्यक्ष गुलाम गोस द्वारा कथित रूप से हाउस टेक्स ट्रांसफर किए जाने के नाम पर रिश्वत मांगे जाने का सामने आया। इसके बाद गदरपुर के व्यापारियों का गुस्सा फूट पड़ा। गुस्साए व्यापारियों ने गुलाम गौस पर मुकदमा दर्ज करने की मांग की। तहरीर पूर्व में 3 जून को व्यापारी द्वारा दी गई थी जिस पर पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। इसके बाद आए गदरपुर के व्यापारी एकत्र होकर थाना परिसर पहुंचे।

थाना अध्यक्ष द्वारा यह बताया गया है कि उन्हें तहरीर ही प्राप्त नहीं हुई है जबकि कार्यालय में रिसिविंग मिली थी। इससे व्यापारी भड़क गए और धरने पर बैठ गए।

गदरपुर में नगर पालिका अध्यक्ष द्वारा कथित रूप से रिश्वत मांगे जाने के बाद थाना अध्यक्ष द्वारा कार्रवाई न किए जाने से अनेक लोग थाने परिसर में धरने पर बैठकर इस पर 4 थानों की पुलिस को बुलाया गया।

एसपी काशीपुर प्रमोद कुमार, सीओ बाजपुर वंदना वर्मा, थाना अध्यक्ष किला खेड़ा, थाना अध्यक्ष बाजपुर, थानाध्यक्ष दिनेशपुर और गदरपुर की पुलिस भी मौके पर मौजूद रहे। मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने थाना खाली करने को कहा लेकिन व्यापारियों ने स्पष्ट थाना खाली करने से मना कर दिया गया जिसके बाद पुलिस ने व्यापारियों को धकियाते हुए थाने को खाली करवाया और व्यापारियों से वार्ता की स्थानीय व्यापारी ने कहा कि उनकी दुकान है जिसके हाउस टेक्स ट्रांसफर होना है़ उनकी दुकानें रजिस्ट्री वाली जमीन पर हैं और 147 गैर कृषि भूमि है लेकिन नगर पालिका के कर्मचारी अधिकारियों और नगर पालिका अध्यक्ष द्वारा उनसे हाउस टैक्स ट्रांसफर करने के नाम पर पैसे मांगे गए हैं और हम लोगों ने गदरपुर पुलिस को 3 जून को तहरीर सौंपी थी लेकिन गदरपुर पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की इसलिए हम लोग धरने पर बैठे हैं।

वहीं व्यापारियों के वकील आरपी सिंह ने कहा कि व्यापारियों के द्वारा तहरीर दी गई थी कि रंगदारी का स्पष्ट मामला सामने आया है। व्यापारियों को ब्लैकमेल कर उनके दुकान निर्माण का काम रोका गया है और इसलिए व्यापारियों ने तहरीर नहीं दी। गदरपुर पुलिस का काम करने का तरीका पूरी तरह गलत है इसलिए व्यापारी धरने पर बैठे थे। एसपी काशीपुर प्रमोद कुमार से वार्ता के बाद हम लोगों ने 4 दिन का समय दिया है। 4 दिन में इस मामले की जांच सीओ बाजपुर वंदना वर्मा करेंगी और हमारा मुकदमा दर्ज नहीं होता है तो हम लोग बड़े आंदोलन को बाध्य होंगे

वहीं एसपी काशीपुर प्रमोद कुमार ने कहा व्यापारियों से वार्ता हुई है और 4 दिन के अंदर सीओ बाजपुर इस मामले की जांच करेंगे। एसपी ने कहा कि पूर्व में यह जांच थानाध्यक्ष गदरपुर कर रहे थे लेकिन व्यापारियों के आज के घेराव के बाद वह जांच अधिकारी बदल रहे हैं और जल्द जांच पूरी करके उचित कानूनी कार्रवाई की जाएगी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here