किसान को हाथी ने पटक-पटककर मार डाला, झोपडी़ में रहता था

उधम सिंह नगर (मोहम्मद यासीन) : ऊधमसिंह नगर में हाथियों का तांडव दिन प्रति दिन बढ़ता ही जा रहा है जिसमे वन किसी भी प्रकार की कार्यवाही करते नज़र नही आ रहा है। जिसका खामयाजा एक किसान को अपना जीवन देखर भुगतना पड़ा है। पूरा मामला जनपद के गूलरभोज चौकी का है जहां दर्दनाक घटना से पूरे गांव में कोहराम मचा हुआ है। अभी तक एक क्षेत्र में हाथियों से चार लोगों की जान जा चुकी है।

उधम सिंह नगर के गूलरभोज डेम पार गांव में देर रात को जंगली हाथी ने एक किसान को पटक-पटक कर मार डाला। घटना के बाद से ग्रामीणों में वन विभाग की ओर से सुविधाएं न देने को लेकर आक्रोष बना हुआ है। आपको बता दें कि घटना रात करीब 10 बजे की है जहां किसान पर जंगली हाथी ने हमला कर दिया। हाथी ने उसे सूंड में उठाकर इतनी बुरी तरह से पटका कि किसान की मौके पर ही मौत हो गयी। किसान गुलरभोज क्षेत्र में ही खेत के पास अपनी झोपड़ी बनाकर रहते हैं। रात को जब खेत में हलचल हुई तो एक किसान टॉर्च लेकर वहां देखने चला गया। इतने में ही वहां हाथी को देख किसान नंदलाल जब तक कुछ समझ पाता, तब तक हाथी ने उसे सूंड में उठा लिया और जमीन पर कई बार पटका। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। लोगों ने इसकी सूचना वन विभाग को दी। वन टीम ने वहां पहुंचकर शव का पंचनामा भर कर पोस्टमार्टम को भेज दिया है।

लोगों ने आरोप लगाया कि वन विभाग यहां किसानों को खेत की सीमा पर फेंसिंग की सुविधा नहीं दे रहे हैं। जिसके कारण हादसे बढ़ रहे हैं।

बता दें कि इससे पहले भी इस क्षेत्र में बीते साल हाथी के लोगों को मारने की चार घटनाएं हो चुकी हैं। 20 जनवरी 2019 को हाथी ने एक चौकीदार रोशनलाल को मार दिया था। वहीं, इसी क्षेत्र में जनवरी माह में ही एक बुग्गी गुर्जर को भी हाथी ने पटककर मौत के घाट उतार दिया था। ओर इनसे पूर्व में दो वन गुज्जरों को भी हाथी मौत के घाट उतार चुका है।

इनकी माने तब रात 10 बजे गूलरभोज के नंगला में एक हाथी ने किसान को अपने सूंड से पकड़ कर पटक दिया जिससे उसकी मौत हो गयी और अब ये जांच का विषय है कि किसान अपनी भूमि में था या फिर वन विभाग की ये जांच वन विभाग करेंगे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here