हरीश रावत ने नंगे पांव निकाली पदयात्रा, बेरोजगारों के लिए उठाई आवाज

harish rawatकांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने आज बेरोजगारों के पक्ष में नंगे पांव पैदल मार्च किया है। हरीश रावत ने कहा है कि सरकारो बेरोजगारों को रोजगार में देने में नाकाम रही है।

देहरादून के डिस्पेंसरी रोड स्थित राजीव गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण के साथ शुरु करते हुए हरीश रावत ने गांधी पार्क में जवाहरलाल नेहरु की मूर्ति तक पदयात्रा की। इस दौरान हरीश रावत नंगे पांव चलते रहे। हरीश रावत के साथ ही कांग्रेस कार्यकर्ता और बड़ी संख्या में बेरोजगार भी शामिल हुए।

हरीश रावत ने कहा कि मेरे हाथ में कुछ नहीं है, न सत्ता है, न कुछ और, न शक्ति है। जो कुछ मुझे इस राज्य ने दिया है उसके बल पर एक नैतिक दबाव राज्य सरकार पर पैदा करने के लिए ये नंगे पांव पदयात्रा कर रहा हूं।

हरीश रावत ने बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य सरकार बेरोजगारों को उनका हक देने में नाकाम साबित हुई है। हरीश रावत ने कहा है कि राज्य के नौजवान मुख्यमंत्री को भटका दिया गया है। राज्य में 85 हजार से अधिक पद रिक्त हैं और सरकार इनपर नियुक्तियां नहीं कर पा रही है।

इसके साथ ही हरीश रावत ने कहा है कि बड़ी बड़ी पोस्टें क्रिएट की जा रहीं हैं और स्थानीय युवाओं को जो नीचे के पदों के लिए उपयुक्त हैं उनके लिए पदों को खत्म किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here