कड़कड़ाती ठंड में भी धरने पर डटे रहे हरदा, अंकिता भंडारी को न्याय की मांग

HARISH RAWAT ON DHARNAअंकिता भंडारी हत्याकांड में VIP के नाम के खुलासे की मांग को लेकर हरीश रावत ने पूरे चौबीस घंटे देहरादून में धरना दिया। हालात ये रहे कि हरदा कड़कड़ाती ठंड में भी धरने पर डटे रहे। धरना स्थल पर ही हरदा ने रात बिताई।

अंकिता भंडारी हत्याकांड को लेकर भले ही एसआईटी ने चार्जशीट दाखिल कर दी हो लेकिन अब भी कई ऐसे सवाल हैं जिनके जवाब मिलने बाकी हैं। इन्ही में से एक है VIP का नाम। हरीश रावत भी लगातार VIP के नाम का खुलासा करने की मांग करते रहें हैं।

इसी के लिए हरीश रावत ने सोमवार 26 तारीख को दिन में 12 से 24 घंटे का धरना देहरादून के गांधी पार्क में शुरु किया था। इस दौरान हरीश रावत ने अंकिता के लिए जन आंदोलन करने वालों को भी अपना नैतिक समर्थन दिया।

हरीश रावत ने कहा कि सरकार कुछ छिपाने की कोशिश कर रही है। अंकिता भंडारी को न्याय दिलाने की कोशिश जारी रहेगी।

वहीं हरीश रावत के धरने पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ ही कई अन्य लोग भी पहुंचे। हरीश रावत के आसपास रात में भी लोगों का जमावड़ा लगा रहा।

दिसंबर की कड़कड़ाती ठंड में भी हरीश रावत धरना स्थल पर डटे रहे। हालांकि वो जिस जगह पर धरना पर बैठे थे वहां एक टेंट लगाया गया था। वहीं पर आग जलाने की व्यवस्था भी की गई थी। हरदा ने इसी टेंट में रात बिताई। वो अपनी रजाई लेकर इसी टेंट में रात में सोए। उनके साथ उनके समर्थक भी रहे।

सुबह हरीश रावत ने धरना स्थल पर ही योग किया और वहीं पर चाय पी। इसके बाद अखबार भी पढ़ा। दिन में भी लोग उनके साथ अपना समर्थन देने पहुंचे। हरीश रावत ने कहा कि हाईकोर्ट की देखरेख में सीबीआई जांच होनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here