जागेश्वर धाम में BJP सांसद की अभद्रता के खिलाफ हरदा का मौन व्रत, बोले-सार्वजनिक रूप से क्षमा मांगें

जागेश्वर धाम में बीजेपी सांसद द्वारा पुजारियों के साथ अभद्रता की गई। दर्शन करने को लेकर जब उनको रोका गया तो वो आग बबूला हो गए और बीजेपी सांसद ने पुजारियों के साथ गाली-गलौज की। वहीं अब ये मामला तूल पकड़ता जा रहा है। बीजेपी सांसद पर मुकदमा दर्ज हो चुका है। लेकिन कांग्रेस ने इस मुद्दे को लपक लिया है औऱ भाजपा पर हमला वर हो गई है। सांसद के गाली गलौच का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरलहो रहा है जिससे भाजपा की किरकिरी हो रही है। बता दें कि इस मामले को लेकर पूर्व सीएम हरीश रावत ने भी जमकर वार किया।

हरीश रावत ने लिखी पोस्ट

कांग्रेस चुनाव संचालन समिति के अध्यक्ष हरीश रावत ने भाजपा सांसद द्वार जागेश्वर धाम की गई अभद्रता के खिलाफ मौन व्रत रखा। हरीश रावत ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा कि आज देहरादून स्थित आवास में जागेश्वर, भगवान जागनाथ का धाम जो एक साक्षात ज्योर्तिलिंग है, वहाँ के प्रधान पुजारी जी और मंदिर के लिये अपमान जनक शब्दों का प्रयोग कर भाजपा के सांसद जी ने अपना अहंकार उडेला है। भाजपाई सांसद जी के इस व्यवहार से मैं पहले ही बहुत आहत हूँ। भाजपा सरकार ने जागेश्वर में आयोजित होने वाले अंतर्राष्ट्रीय योग महोत्सव की परंपरा को बंद कर अपनी छोटी सोच जाहिर कर चुकी है। अब भाजपा सांसद जी का अमर्यादित व्यवहार अत्यधिक निंदनीय है

भाजपा को इस व्यवहार के लिये सार्वजनिक रूप से क्षमा मांगनी चाहिये। मैं इस व्यवहार के विरोध में “मौन उपवास” बैठा। इस दौरान वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रभु लाल बहुगुणा, गोदावरी थापली, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष राजेंद्र सिंह राणा, पूर्व प्रमुख कमल सिंह रावत, उर्मिला थापा, संग्राम सिंह पुंडीर, श्याम सिंह चौहान, ललित जोशी, नीरज त्यागी, दीपेंद्र सिंह भंडारी, दिलबर प्रताप सिंह, मोहन काला, मनमोहन शर्मा, अलका शर्मा, अमन उज्जैनवाल, कैलाश बाल्मीकि सहित अन्य साथी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here