गर्भ में लड़का है या लड़की…ये देखने के लिए जल्लाद पति ने फाड़ डाला पत्नी का पेट

भले ही सरकार और लोग बेटी बचाओ बेटी पढाओं का नारा दे लें या इस अभियान को चीख चीख कर लोगों को बताए लेकिन लोगों की धारण पहले जैसी ही है। जो कहते हैं बेटी बेटों के बराबरी में है वो भी दिल में बेटे की चाह लिए रहते हैं। पीएम मोदी से लेकर राज्य सरकार बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत बेटियों को बढ़ावा दे रहे हैं और लोगों को जागरुक कर रहे हैं लेकिन हमारे समाज में कई ऐसे जल्लाद लोग हैं जो बेटे की चाह में बेटियों को गर्भ में ही मौत दे दे रहे हैं। जी हां एक जल्लाद चेहरा यूपी के बदायूं से सामने आया है। जहां एक पति ने ये देखने के लिए कि पत्नी के गर्भ में लड़का है या लड़की…पत्नी का पेट फाड़ डाला।

आखिर कोई पति इतना जल्लाद कैेसे हो सकता है?

यूपी से इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है। इस घटना के बारे में जिसने भी सुना और देखा वो हैरान रह गया कि आखिर कोई पति इतना जल्लाद कैेसे हो सकता है। बेटे की चाह में कोई इतना हैवान कैसे बन सकता है। बदायूं में एक सनकी पिता ने बेटे की चाहत में अपनी गर्भवती पत्नी का ब्लेड से पेट फाड़ डाला है। 

युवक की हैं पांच बेटियां

जानकारी मिली है कि युवक की पहले से ही 5 बेटियां हैं। उसकी पत्नी फिर से गर्भवती हुई। पति को शक था कि गर्भ में फिर से कहीं बेटी तो नहीं। बस फिर क्या बेटे की चाह में पति ने पत्नी का ब्लेड से पेट फाड़ डाला। पत्नी लहूलुहान हो गई। चीख पुकार मच गई। पत्नी दर्द से कराहती हुई जोर से चिलाई और बेटियां रोते हुए घर से बाहर पहुंची। ग्रामीणों ने बच्चियों से रोने का कारण पूछा और मौके पर पहुंचे। घर के अंदर का नजारा देख ग्रामीण हक्के बक्के रह गए। उन्होंने आनन फानन में पीड़िता को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया जहां उसकी हालत को नाजुक देखकर डॉक्टरों ने बरेली रेफर कर दिया है। जानकारी मिली है कि महिला की हालत गंभीर है।

वहीं पुलिस को मामले की सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here