हल्द्वानी : अमित हत्याकांड मामले में 6 दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली, एसपी सिटी का दावा

हल्द्वानी के काठगोदाम में हुए अमित हत्याकांड में 6 दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं। पुलिस अमित के ससुराल पक्ष के खिलाफ मुकदमा लिखने के बाद भी अभी तक हत्यारे का सुराग नहीं लगा पाया है, हालांकि एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव का कहना है कि पुलिस ससुराल वालों से पूछताछ के अलावा अन्य बाहरी कड़ियों की भी जांच कर रही है। साथ ही दो दर्जन से अधिक लोगों से पूछताछ के साथ ही कई मोबाइल नंबर भी सर्विलांस में लगाए गए हैं।

आपको बता दें कि इस मामले में मृतक अमित की बहन की तहरीर पर मृतक अमित के सास ससुर, पत्नी और दो सालियों पर मुकदमा दर्ज किया गया है। काठगोदाम थाने में सभी के खिलाफ धारा 302 और 120 बी के तहत मुकदमा दर्ज हुआ है। जानकारी के लिए बता दें कि काठगोदाम में गुरुवार देर शाम 32 वर्षीय एक युवक अमित कुमार को कुछ अज्ञात लोगों ने सीने पर गोली मार दी थी. वहीं इस घटना से क्षेत्र में सनसनी फैल गई, स्थानीय लोग और अमित के परिजनों ने तत्काल अमित को सुशीला तिवारी अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। वहीं मौके पर पहुंची काठगोदाम थाना पुलिस ने अमित के घर के आस-पास लोगों से पूछताछ शुरू की थी। एसएसपी नैनीताल सुनील मीणा खुद सुशीला तिवारी अस्पताल पहुंचे थे जहां उन्होंने मृतक अमित की बॉडी को नजदीक से देखा और उसके परिजनों से बातचीत की थी।

10 साल पहले की थी लव मैरिज

एसएसपी सुनील मीणा ने जानकारी दी थी कि मृतक अमित सलड़ी में एक छोटा रेस्टोरेंट चलाता था, 10 साल पहले निकिता नाम की लड़की के साथ लव मैरिज हुई थी, जिसकी एक 7 साल की छोटी बच्ची भी है। वहीं सितंबर में अमित और निकिता के बीच किसी बात को लेकर अनबन हो गई थी जिसके बाद मामला इतना बढ़ गया कि निकिता ने अमित के परिवार वालों के खिलाफ दहेज उत्पीड़न का मुकदमा भी दर्ज कराया था। उसके बाद से दोनों अलग-अलग रहते थे। मृतक अमित की बहन और उसके पिता ने हत्या के पीछे निकिता का हाथ होना बताया है। 6 दिन बाद भी पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी है लेकिन अभी तक पुलिस के हाथ कोई सुराग हाथ नहीं लगा है। वहीं एसपी सिटी ने इस मामले में जल्द से जल्द आऱोपियों की गिरफ्तारी कर मामले का खुलासा करने का दावा किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here