डॉलर के मुकाबले रूपये की कीमत गिरने और GST लागू होने से हज यात्रा महंगी

देहरादून(मनीष डंगवाल) हज यात्रा पर जाने वाले यात्रियों की इस बार यात्रा जीएसटी और डॉलर के मुकाबले रूपये की कीमत गिरने से महंगी हो गई है। जिसे हज यात्रियों में निराशा है. जिससे हज यात्रियों में रोष जरुर है.

हज यात्रा पर जाने वाले हज यात्रियों को इस बार यात्रा पिछले साल की तुलना में इस बार ज्यादा महंगी करने पड़ेगी.वजह है जीएटी और डाॅलर के मुकाबले रूपया का गिरता स्तर. जिससे हज यात्री में थोड़ी नाराजगी भी देखने को मिल रही है,हज यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन कर चुके यात्रियों में जीएसटी चुकता करने और डालर के मुकाबले रूपये के की कमाजोर होती स्थिति को लेकर रोष है.

यात्रियों का कहना कि केंद्र सरकार को इस संज्ञान लेना चाहिए

हज यात्रा पर जाने वाले यात्रियों का कहना कि केंद्र सरकार को इस संज्ञान लेना चाहिए जिससे हज यात्रा सस्ती हो सके। आप को बता दें कि जीएसटी लागू होने के बाद पहली बार हज यात्रियों को जीएसटी चुकाना होगा जिससे यात्रा करीब 30 प्रतिशत महंगी हो गई. पिछले साल जहां अजीजीया के तहत हज यात्रा 2 लाख 5 हजार में हुआ करती थी वही इस साल अजीजीया के तहत हज यात्रा 2 लाख 33 हजार की हो गई हैै। ग्रीन कैटिग्री के तहत हज यात्रा पिछले साल 2 लाख 35 हजार में हुआ करती थी वहीं अब ग्रीन कैटिग्री के तहत यात्रा 2 लाख 65 हजार में हुआ करेगी।

ये फैसला केंद्र सरकार को कहना कि कैेसे यात्रियों को राहत दी जाए-हज कमेटी के चेयरमैन

ये तो यात्रियों पर जीएएसटी की मार है. हाल में ही डालर के मुकाबले रूपये का स्तर गिरता जा रहा है,जिससे यात्रा 6 से 7 हजार रूपये महंगी हो गई है। उत्तराखंड हज कमेटी के चेयरमैन अजीर राव मुहम्मद का कहना कि निश्चित तौर से जीएसटी और डाॅलर के मुकाबले रूपये गिरने से यात्रा महंगी हो गई है लेकिन ये फैसला केंद्र सरकार को कहना कि कैेसे यात्रियों को राहत दी जाए. इसलिए उनका तो यही सुझाव है कि सरकार को किसी भी यात्रा पर जीएएटी नहीं लगानी चाहिए. चाहे वो हज यात्रा हो या फिर मानसरोवर यात्रा.

पहले के मुकबाले हज यात्रियों के लिए सुविधाएं बढ़ाई है- यशपाल आर्य

हालांकि उत्तराखंड के अल्पसंख्यक मंत्री यशपाल आर्य का कहना कि भले ही हज यात्रा पर यात्रियों को जीएसटी देने पड़ रही हो लेकिन केंद्र सरकार ने पहले के मुकबाले हज यात्रियों के लिए सुविधाएं बढ़ाई है।

यात्रा मंहगी होने के चलते जरूर हज यात्रियों में रोष देखने को मिल रहा है लेकिन हज जाने की चाह यात्रियों को ज्यादा परेशानी नहीं कर रही है. बस यात्रा जो महंगी हुई है उसको लेकर अपनी नाराजगी सरकार के खिलाफ बयां कर रहे हैं. ऐसे में देखना ये होगा कि वास्तव में सरकार जो सुविधाएं बढ़ाने की बात कर रही है उसे देख जरुर सभी यात्रियों की नाराजगी दूर हो जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here