गेस्ट टीचर्स धरने पर बैठे, महानिदेशक ने दी चेतावनी, होगी कार्रवाई

guest teachers strike

उत्तराखंड में फिर एक बार गेस्ट टीचर्स का मसला गर्माता दिख रहा है। गेस्ट टीचर्स ने देहरादून में शिक्षा निदेशालय पर धरना शुरु कर दिया है। गेस्ट टीचर्स अपनी एक सूत्रीय मांग को लेकर धरने पर बैठे हैं। वहीं विभाग ने भी उनके खिलाफ सख्त रवैया अपनाया है। विभाग ने कार्रवाई की चेतावनी दी है।

देहरादून के शिक्षा निदेशालय में गेस्ट टीचर्स ने अनिश्चितकालीन धरना शुरु किया है। गेस्ट टीचर्स की मांग है कि आठ साल से अधिक समय से सेवा दे रहे गेस्ट टीचर्स को तदर्थ नियुक्ति दे दी जाए। इसी एक सूत्रीय मांग को लेकर गेस्ट टीचर्स धरने पर बैठे हैं।

गेस्ट टीचर्स ने धामी सरकार को चुनावी घोषणा पत्र भी याद दिलाया है। धरने पर बैठे टीचर्स ने कहा है कि बीजेपी ने चुनाव से पहले वादा किया था कि अगर सत्ता में वापसी होती है तो राज्य में गेस्ट टीचर्स को भविष्य सुरक्षित किया जाएगा।

इसके साथ ही गेस्ट टीचर्स के पदों को रिक्त न मानने और होम डिस्ट्रिक में पोस्टिंग के फैसले को भी याद दिलाया है। इस संबंध में अब तक जीओ जारी नहीं हो पाया है।

वहीं गेस्ट टीचर्स के अनिश्चितकालीन धरने के साथ ही शिक्षा विभाग की चेतावनी भी सामने आ गई है। शिक्षा महानिदेशक ने साफ किया है कि अगर बिना सूचना दिए कोई गेस्ट टीचर स्कूल से अनुपस्थित है और इससे बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है तो ऐसे गेस्ट टीचर पर कार्रवाई की जाएगी।

इसके साथ ही शिक्षा महानिदेशक ने साफ किया है कि गेस्ट टीचर्स को अपनी मांगें विभाग को लिखित रूप में देनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here